11.5 लाख करोड़ की बाजार हैसियत वाली पहली भारतीय कंपनी बनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड

मुकेश अंबानी के मालिकाना हक वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने इतिहास रच दिया। कंपनी का कुल बाजार पूंजीकरण 11.5 लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को पार कर गया है। यह कारनामा कंपनी के शेयरों का दाम बढ़ने से हुई है। बता दे इस साल जून महीने में आरआईएल ने 11 लाख करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण की उपलब्धि हासिल कर इस मुकाम पर पहुंचने के मामले में देश की पहली कंपनी बनने का गौरव हासिल किया।

आज बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में आरआईएल का शेयर 2.55 फीसदी बढ़कर 1,833.10 रुपये प्रति शेयर पर पहुंच गया है। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में कंपनी का शेयर मूल्य 2.55 फीसदी बढ़कर 1,833.50 रुपये के सर्वोच्च स्तर पर आ गया है। कुल मिलाकर कंपनी का आज सुबह के कारोबार में बाजार पूंजीकरण 26,150.05 करोड़ रुपये बढ़कर 11,59,318.60 करोड़ रुपये तक पहुंच गया। कोरोना काल में आरआईएल की यह एक बड़ी उपलब्धि है।

आरआईएल का बाजार पूंजीकरण बढ़ने के पीछे की वजह पिछले दो माह में हिस्सेदारों के माध्यम से जुटाया गया धन है। कंपनी ने जियो प्लेटफॉर्म्स में फेसबुक, केकेआर, सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी, जनरल अटलांटिक, मुबाडला, टीपीजी, आदि द्वारा निवेश हासिल कर खुद को कर्जमुक्त कर लिया है।

यह भी पढ़े: PUBG बन रहा आफत, पंजाब में बच्चे ने उड़ाए दादाजी के अकाउंट से पेंशन के दो लाख रुपये
यह भी पढ़े: बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने डोनेट किया प्लाज्मा, कहा-प्रधानमंत्री मोदी ने दिया सेवाभाव का मंत्र