पके हुए केले सहायक है कैंसर से लड़ने में

फलों में केला हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह हमे ऊर्जावान बनाता है। यह फल आपको न केवल सेहतमंद रखने में सहायक है बल्कि कुछ गंभीर बीमारियों से भी आपको बचा सकता है। पके हुए केले जिनके छिलके चितकबरे या काले छींट वाले होते हैं वह बहुत लाभदायक होते है।

कैंसर से लडऩे में करता है सहायता : पका हुआ केला हमारे शरीर को कैंसर से लडऩे में मदद करता है। पके हुए केले, जिनके छिलकों पर काले निशान बने होते हैं वो TNF नामक तत्व से भरपूर होते है जो शरीर में कैंसर पैदा करने वाली कोशिश से लडऩे में बेहद सहायक होता है।

एंटी-ऑक्सीडेंट : केले के पकने के साथ-साथ उसमें एंटी-ऑक्सीडेंट तत्वों का स्तर भी बढ़ता जाता है। यह आपके प्रतिरक्षी तंत्र को अधिक मजबूत कर श्वेत रक्त कणिकाओं के निर्माण में भी अहम् भूमिका निभाता है।

प्राकृतिक शर्करा : पके हुए केले में प्राकृतिक शर्करा की मात्रा काफी ज्यादा होती है जो रक्त में भी शर्करा के स्तर को बहुत तेजी से बढ़ाने में सहायक है।

बनाता है ऊर्जावान : पके केले आपको अधिक उर्जा देने में सक्षम है। आप केवल एक केला खाकर भी घंटों तक बगैर कुछ खाए उर्जावान बने रह सकते हैं।

पोषक तत्व : ये पोषक तत्वों से भरपूर है क्योंकि जैसे-जैसे केला परिपक्व होता है उसमें मौजूद पोषक तत्वों की मात्रा में 8 गुना तक इजाफा होता है। इसमें पोटेशियम, विटामिन बी6, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं।

डायबिटीज जैसे गंभीर रोग से बचने के लिए जानिए इन बातों का रखे ध्यान

इन उपायों की मदद से आप बच सकते है माइग्रेन की गंभीर बीमारी से