सड़क किनारे जूता बेचने वाले की लड़की को मिले 97 प्रतिशत अंक, सरकार से की अपील

मध्य प्रदेश की हायर सेकेंडरी की छात्रा मधु आर्या ने 97 प्रतिशत अंक हासिल किये है। मधु के पिता मध्य प्रदेश के श्योपुर में सड़क किनारे जूता बेचते है। ऐसे में बेटी ने हायर सेकेंडरी स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा में स्ट्रीम की मेरिट सूची में तीसरा स्थान प्राप्त कर अपने पिता का नाम रोशन किया है। मधु की मां कहती है कि हमने बड़ी मुश्किल से उसे शिक्षा दी और बेटी ने भी कड़ा परिश्रम किया। उसकी सफलता से वह और उनका परिवार काफी खुश है।

वही, मधु कहती है कि वह सुबह चार बजे उठकर प्रतिदिन आठ से दस घंटे तक पढ़ाई किया करती थी। वह डॉक्टर बनना चाहती है और इसके लिए NEET की तैयारी भी कर रही है। मधु कहती है कि उनकी सफलता से उनके माता-पिता काफी खुश है। वह अपनी उच्च शिक्षा में सहयोग देने के लिए सरकार से अपील करती है क्योंकि उसके माता-पिता उसका खर्चा नहीं उठा सकेंगे। बता दे इस बार एमपी में सेकेंडरी एजुकेशन में लड़कियों ने अच्छा प्रदेशन किया है।

मेधावी छात्रों को मिलेंगे लैपटॉप

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने इस साल से 12वीं में मेधावी स्टूडेंट्स के लिए लैपटॉप योजना शुरू की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि इस बार 12वीं के मेधावी स्टूडेंट्स को लैपटॉप खरीदने के लिए 25000 रुपए दिए जाएंगे। यह योजना 2019-20 के रेगुलर और स्वधायी स्टूडेंट्स दोनों के लिए लागू होगी।

यह भी पढ़े: मजबूरी में मनरेगा में पत्थर तोड़ रहा यह पूर्व क्रिकेट कप्तान, कोरोना ने छीना रोजगार
यह भी पढ़े: गुरुद्वारा को मस्जिद में बदलने पर भारत ने दर्ज कराया पाक के खिलाफ अपना विरोध