पटना मे मास्क को लेकर नियम हुए और सख़्त, वाहन भी हो सकते है जब्त

प्रदेश की राजधानी पटना में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए आज से नियम और सख़्त हो गए है। तय नियमों का अनुपालन नहीं करने पर अब आईपीसी की धारा-144 के तहत कार्रवाई की जाएगी। यही नहीं सार्वजनिक स्थानों या सार्वजनिक वाहनों में बिना मास्क के पाये जाने पर जुर्माना भी देना होगा। सभी लोगों को मास्क लगाना सुनिश्चित कराने के लिए प्रमंडलीय आयुक्त ने जिला पदाधिकारी, वरीय पुलिस अधीक्षक एवं पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिया है। इसको लेकर 4 सितंबर से अगले 10 दिनों तक लगातार मास्क के उपयोग को लेकर सघन चेकिंग अभियान भी चलाया जाएगा। खास तौर से ऑटो, बस स्टैंड एवं बाजार में दंडाधिकारी तथा पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति होगी। जिलाधिकारी कुमार रवि ने यह निर्देश अपर जिला दंडाधिकारी व सभी एसडीओ के साथ प्रशासन व पुलिस के अधिकारियों को जारी किया है।

पटना के प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का उपयोग सुनिश्चित कराने के लिए लाउडस्पीकर एवं अन्य माध्यमों से प्रचार अभियान चलाया गया। इसके बाद आज से लगातार विभिन्न सार्वजनिक जगहों पर मास्क को लेकर सघन चेकिंग  अभियान चलाया जायेगा। नियमों का उल्लंघन किये जाने पर सार्वजनिक परिवहन के वाहनों को जब्त भी किया जाएगा। इसके साथ ही सार्वजनिक स्थानों या सार्वजनिक वाहनों में बिना फेस मास्क लगाए पाए जाने पर जुर्माना देना होगा। उन्होंने कहा कि जिन बाजार, व्यापारिक प्रतिष्ठान, कारखानों आदि में व्यक्तियों द्वारा मास्क का उपयोग नहीं किया जा रहा है उनके विरुद्ध कार्रवाई करते हुए संबंधित प्रतिष्ठान को बंद करने की कार्रवाई करें। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सार्वजनिक स्थानों या वाहनों में सफर के दौरान फेस मास्क लगाना अनिवार्य किया गया है।

कोरोना संक्रमण न फैले इसलिए लोगों को एक जगह एकत्रित नहीं होने दिया जाएगा। आम तौर पर धारा-144 भीड़ को रोकने के लिए लगाया जाता है। यह धारा लागू होने पर जिले में चार या उससे ज्यादा लोगों को एक जगह एकत्रित होने पर रोक रहेगी। अगर कोई इसका उल्लंघन करते हुए पाया जाता है तो उसके ऊपर इस धारा के तहत कारवाई हो सकती है।

Loading...