ऑल टाइम लो पर आया रुपया, डॉलर के मुकाबले अब इतना है भाव

अमेरिकी मुद्रा डॉलर के मुकाबले रुपया 78.32 रुपये प्रति डॉलर के रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गया है। गुरुवार को रुपया डॉलर के मुकाबले मजबूत होकर 78.26 पर खुला और आरंभिक कारोबार में 78.22 के स्तर पर पहुंच गया।हालांकि, बाद में डॉलर में मजबूती लौटने और ब्रेंट क्रूड की तेजी से रुपये की धारणा प्रभावित हुई और यह 78.38 रुपये के दिन के निचले स्तर पर पहुंच गया।

अंत में रुपया 78.32 रुपये प्रति डॉलर के रिकॉर्ड निम्न स्तर पर अपरिवर्तित रुख के साथ बंद हुआ। बीते बुधवार को अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया 19 पैसे की गिरावट के साथ 78.32 रुपये के अपने निचले स्तर पर बंद हुआ था।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट: एचडीएफसी सिक्योरिटीज के शोध विश्लेषक, दिलीप परमार ने कहा कि तिमाही समाप्त होने से पहले समायोजन को लेकर सुरक्षित निवेश के विकल्प के रूप में डॉलर मांग बढ़ने से रुपये में सुबह की तेजी जाती रही। उन्होंने कहा कि जिंसों में गिरावट, क्षेत्रीय मुद्राओं में मजबूती और जोखिम वाली संपत्तियों में निवेश धारणा के सुधरने के बीच निकट भविष्य में रुपये में तेजी आने की संभावना है।

इस बीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.41 प्रतिशत की मजबूती के साथ 104.62 हो गया। बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक 443.19 अंक की तेजी के साथ 52,265.72 अंक पर बंद हुआ।

शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशक शुद्ध बिकवाल रहे। उन्होंने गुरुवार को 2,319.06 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

यह पढ़े: Air India के रिटायर्ड पायलट बनेंगे कमांडर! Tata ग्रुप की ये है योजना