रूस ने बना ली है दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन, 10 अगस्त तक मिलेगी मंजूरी

तेजी से बढ़ते कोरोना संकट के बीच लोगों को ‘कोरोना वैक्सीन’ का बेसब्री से इंतजार है। जिसे लेकर एक सुखद खबर सामने आई है। दरअसल, रूस ने दुनिया में कोरोना की पहली वैक्सीन बना लेने का दावा ठोकते हुए इसे 10 अगस्त तक मंजूरी देने की योजना बनाई है। इसे मंजूरी मिलने के बाद तीन-चार दिन बाद बाजार में उतारा जा सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पंजीकरण के दस्तावेज 10-12 अगस्त तक तैयार हो जाएंगे।

दस्तावेज तैयार होने के बाद वैक्सीन को 15-16 अगस्त तक बाजार में उतारे जाने की पूरी संभावना है। एक न्यूज चैनल के मुताबिक रूस 10 अगस्त तक वैक्सीन को मंजूरी देने की योजना बना रहा है, जिसे मॉस्को स्थित गामालेया महामारी संस्थान केंद्र ने बनाया है।

रूस के संप्रभु धन कोष के प्रमुख, किरिल दिमित्री ने कहा था कि यह एक स्पूतनिक क्षण है। रूस का संप्रभु धन कोष वैक्सीन के लिए वित्तपोषण कर रहा है। उन्होंने कहा कि जब स्पूतनिक के बारे में अमेरिका ने सुना तो वह हैरान था। इस वैक्सीन के साथ ऐसा हो रहा है। रूस बाकियों से पहले सफलता पा लेगा।

कहा जा रहा है कि वैक्सीन का सबसे पहले इस्तेमाल हेल्थ वर्कर्स पर होगा। इसके बाद इसकी पहुंच अन्य लोगों तक होगी। वैसे तो अभी तक रूस की वैक्सीन का दूसरा चरण पूरा होना बाकी है। वही दुनिया के अन्य कई देशों में कुछ वैक्सीन का परीक्षण तीसरे चरण में पहले से ही हो रहा है।

यह भी पढ़े: बिहार में 16 अगस्त तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, जानिये क्या रहेगा खुला और क्या बंद
यह भी पढ़े: सौरव गांगुली के पूर्व कोच अशोक मुस्तफी का निधन, दिल का दौरा पड़ने से मौत