23 जून को प्रस्तावित है रूस-इंडिया-चीन की वर्चुअल बैठक, भारत कर सकता है बहिष्कार

भारत और चीन के बीच सीमा तनाव को लेकर हालात काफी खराब है। इसी बीच खबर आ रही है कि भारत 23 जून को प्रस्तावित रूस-इंडिया-चीन (RIC) की वर्चुअल बैठक का बहिष्कार कर सकता है। मामले से जुड़े लोगों ने बुधवार को यह जानकारी दी। गौरतलब है कि करीब डेढ़ महीने से लद्दाख में भारत-चीन के बीच चल रही सीमा पर तनातनी सोमवार रात हिंसक झड़प में तब्दील हो गई। इस झड़प में भारत के 20 और चीन के 40 से अधिक सैनिक शहीद हो गए।

23 जून को प्रस्तावित रूस-इंडिया-चीन (RIC) की वर्चुअल बैठक मामले से जुड़े लोगों का कहना है कि अजेंडे में सीमा तनातनी शामिल नहीं है। लेकिन भारत इस बैठक का बहिष्कार कर सकता है। मामले से जुड़े लोगों ने पहचान गोपनीय रखने की शर्त पर बताया कि चीन के साथ उपजे तनाव के बाद भारत के द्वारा इस बैठक के बहिष्कार करने की पूरी सम्भावना है। हालांकि, अभी तक बैठक की आधिकारिक तौर पर घोषणा नहीं की गई है।

पहले RIC की बैठक मार्च में प्रस्तावित थी, लेकिन कोरोना संकट की वजह से इसे टाल दिया गया था। जिसके बाद रूस ने पहल करते हुए 22 जून को वर्चुअल मीटिंग तय की थी और इसे फिर 23 जून के लिए निर्धारित किया गया। बैठक में वैश्विक महामारी के मद्देनजर सहयोग बढ़ाने पर बातचीत होनी थी। लेकिन भारत-चीन के बीच चल रहे सीमा तनाव से बैठक में भारतीय भागीदारी की संभावना कम दिख रही है। हालांकि रूस बैठक के लिए भारत को मना सकता है।

यह भी पढ़े: सलमान खान और एकता कपूर समेत 8 लोगों पर दर्ज हुआ केस, सुशांत को प्रताड़ित करने का है आरोप
यह भी पढ़े: टकराव के मूड़ में नेपाल, 200 सालों तक जिस पर कुछ नहीं बोला, अब उसी पर ठोका दावा