सेहत का साथी होता है केसर, जानिए कैसे

केसर का प्रयोग यूं तो लोग अपने सौंदर्य को संवारने के लिए करते हैं। कई तरह के ब्यूटी प्राॅडक्ट्स में भी केसर का प्रयोग किया जाता है। वैसे भोजन की रंगत बदलने में भी केसर माहिर है। लेकिन अगर आप सोचते हैं कि केसर का प्रयोग सिर्फ यहीं तक सीमित है तो आप गलत हैं। केसर की मदद से स्वास्थ्य का भी ख्याल रखा जा सकता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में−

केसर कैंसर से लड़ने में बेहद प्रभावी तरीके से काम करता है। दरअसल, इसमें कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो कोलोरेक्टल कैंसर कोशिकाओं के विकास को बाधित करता है। साथ ही केसर कैरोटेनॉयड्स में समृद्ध है जो एक एंटी−कैंसर की तरह काम करता है। इस प्रकार केसर का प्रयोग कैंसर कोशिकाओं को रोकने में मददगार है।

केसर गठिया रोगियों के लिए भी किसी वरदान से कम नहीं है। केसर में मौजूद क्रोकेटिन सेरेब्रल ऑक्सीजनेशन को बढ़ाता है, जिसके कारण गठिया के इलाज में सहायता है।

अगर आपको अगर मूड स्विंग्स होते हैं या फिर आप हमेशा ही तनावग्रस्त रहते हैं तो भी आपको केसर का सेवन करना चाहिए। बहुत से अध्ययनों से भी यह बात सामने आई है कि केसर का सेवन करने से कुछ हद तक डिप्रेशन से भी निजात मिलती है और व्यक्ति का मूड अच्छा होता है।

केसर का सेवन महिलाओं के लिए विशेष रूप से लाभदायी है। कुछ महिलाओं में माहवारी से पहले प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम जैसे बैचेनी, चिड़चिड़ापन, सिरदर्द, शरीर में दर्द की समस्या होती है। लेकिन अगर केसर का सेवन किया जाए तो इससे इन समस्याओं से राहत मिलती है। साथ ही स्तनपान कराने वाली महिलाएं अगर इसका सेवन करें तो इससे उनके दूध में वृद्धि होती है। इसके अतिरिक्त यह महिलाओं में गर्भाशय व योनि संकुचन जैसे रोगों को भी दूर करने का माद्दा रखता है।