संजय बांगर ने अनिल कुंबले से की युजवेंद्र चहल की तुलना, बोले- WC में ट्रम्प कार्ड बनकर उभरेंगे

दिग्गज अनिल कुंबले के संन्यास लेने के बाद टीम इंडिया में बतौर लेग स्पिनर बहुत कम ही खिलाड़ी अपनी जगह पक्की कर सके। लेकिन भारत के पूर्व बल्लेबाजी कोच संजय बांगर का मानना है कि युजवेंद्र चहल ऐसे खिलाड़ी हैं, जो आने के बाद से कलाई के स्पिनर के रूप में टीम में लगातार बने रहे हैं।

आईपीएल 2022 में सबसे ज्यादा विकेट झटकने वाले युजवेंद्र चहल का करियर ग्राफ पिछले एक-एक साल में उतार-चढ़ाव भरा रहा है। कलाई के स्पिनर को तब बड़ा झटका लगा था, जब पिछले साल उन्हें टी20 विश्व कप टीम से बाहर का रास्ता दिखाया गया था।

वहीं आगामी टी20 वर्ल्ड कप को देखते हुए संजय बांगर उन्हें टीम का एक अभिन्न हिस्सा मानते हैं। यह सब उस निरंतरता के कारण है, जिसके साथ उन्होंने गेंदबाजी की है बांगर ने स्टार स्पोर्ट्स पर कहा, “युजवेंद्र चहल ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्हें पिछले विश्व कप में बहुत मिस किया गया था।

वह निश्चित रूप से ऑस्ट्रेलिया में एक तुरुप का ट्रम्प कार्ड उभरेंगे और भारतीय टीम को अच्छी सफलता दिलाएंगे।”उन्होंने आगे कहा, ”अगर कोई लेग स्पिनर भारत के लिए लंबे समय तक लगातार खेला है, तो वह अनिल कुंबले हैं। अनिल कुंबले के बाद, अगर कोई कलाई-स्पिनर भारत के लिए लगातार या लंबे समय तक खेला है

वह युजवेंद्र चहल हैं। बिल्कुल, इसने बहुत बड़ी भूमिका निभाई है। यह परीक्षण किया जाता है कि आपका दिल कितना बड़ा है। जब आप हिट करना सीखते हैं और हिट होने से डरते नहीं हैं, तो आप गेंदबाजी करना सीखते हैं।

यह पढ़े: रियान पराग ने की लोगों से मदद की अपील, ट्वीट करके लिखा- असम की चाय पसंद है तो बाढ़ के लिए भी चिंता होना चाहिए