सुरक्षा परिषद में PAK की दो भारतीयों को आतंकी घोषित कराने की मांग खारिज

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में एक बार फिर पाकिस्तान को भारत के आगे मुंह की खानी पड़ी है। बुधबार (02 सितंबर) को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने 1267 अल कायदा प्रतिबंध समिति के तहत दो भारतीय नागरिकों को आतंकवादी के रूप में नामित करने के इस्लामाबाद के प्रयासों को खारिज कर दिया। ऐसा करके पाकिस्तान दुनिया के सामने खुद को दागदार बनाने की कोशिस में था, लेकिन वह विफल रहा। इस मामले में वह कोई ठोस सबूत पेश नहीं कर पाया।

बता दे पाकिस्तान ने जिन चार भारतीय नागरिकों को प्रतिबंध समिति के तहत प्रतिबंधित सूची में शामिल करने के लिए नामित किया था। उसमें अंगारा अप्पाजी, गोबिंद पटनायक, अजय मिस्री और वेणुमाधव डोंगरा का नाम शामिल है। पाकिस्तान का आरोप था कि ये सभी भारतीय नागरिक अफगानिस्तान-आधारित समूह का हिस्सा थे और इन्होने तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान और जमात-उल-अहरार द्वारा आतंकवादी हमलों को संगठित करने में मदद की।

वहीं, पाकिस्तान के इस प्रयास को अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस और बेल्जियम द्वारा ‘टेक्निकल होल्ड’ के माध्यम से अवरुद्ध किया गया था। इन देशों की पाकिस्तान से मांग थी कि वह इस मामले में सबूत पेश करे। सबूतों के अभाव में पाक की चाल और मंशा को परिषद सदस्यों ने विफल कर दिया।

यह भी पढ़े: भारत में नहीं थम रहा कोरोना संक्रमण, बीते 24 घंटे में सर्वाधिक 83,883 नए मामले
यह भी पढ़े: पूर्व सांसद समेत सैकड़ों शिक्षकों पर लॉकडाउन के नियमों को तोड़ने को लेकर केस दर्ज

Loading...