लॉकडाउन के बीच सिंगापुर में जूम कॉल के जरिये ड्रग्स डीलर को सुनाई गई फांसी की सजा

मलेशिया के 37 वर्षीय पुनीथन गेनसन को शुक्रवार को 2011 में हेरोइन के लेन-देन में भूमिका निभाने के लिए मौत की सजा सुनाई गई है। सजा की घोषणा ज़ूम वीडियो-कॉल के जरिए ही सुनाई गई। देश में यह पहला मामला है जब मृत्युदंड की सजा दूर से दी गई है। सिंगापुर सुप्रीम कोर्ट के प्रवक्ता ने कहा कि मामले की कार्यवाही को सुरक्षित बनाने के लिए लोक अभियोजक पुनीथन की सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा आयोजित की गई थी।

प्रवक्ता के मुताबिक देश में यह पहला आपराधिक मामला है जिसकी सुनवाई में दूर से मौत की सजा सुनाई गई है। आरोपी पुनीथन गेनसन के वकील पीटर फर्नांडो ने कहा कि उनके मुवक्किल को जूम कॉल पर जज ने फैसला सुनाया है जिस पर हम विचार कर रहे है। शुक्रवार को फर्नांडो ने कहा कि जूम के उपयोग की आलोचना हो रही है। लेकिन यह सुनवाई केवल न्यायाधीश के फैसले के लिए थी, जिस वजह से इसके इस्तेमाल पर कोई आपत्ति नहीं है।

बता दे सिंगापुर में लॉकडाउन अवधि के दौरान कई अदालतों की सुनवाई स्थगित कर दी गई थी। जिनकी शुरुआत अप्रैल में हुई थी और 1 जून तक चलने वाली है। वही जरुरी मामलों में दूरस्थ रूप से सुनवाई की जा रही है। राइट्स ग्रुप्स के मुताबिक सिंगापुर में अवैध ड्रग्स मामले में जीरो-टॉलरेंस की नीति के तहत सैकड़ों लोगों को फांसी की सजा दी जा चुकी है। आपकी जानकरी के लिए बता दे मलेशिया में कोरोना के पूरे एशिया के सबसे अधिक मामले हैं।

यह भी पढ़े: मलाइका अरोड़ा ने शेयर किया मजेदार मीम, देखकर आप भी नहीं रोक पाएंगे अपनी हंसी
यह भी पढ़े: आलोचना के बाद भी हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा का बचाव कर रहे डोनाल्ड ट्रंप, कह दी ये बड़ी बात

Loading...