तिल का तेल सेहत के लिए है बहुत लाभदायक, जानें कैसे

सभी घरों में तेल का प्रयोग किसी न किसी रूप में अवश्य किया जाता है। तिल का प्रयोग हम खाना बनाने में, बालो में लगाने में या शरीर की मालिश करने में कभी न कभी अवश्य करते है। हम घर में अलग अलग तरह के तेल का प्रयोग किया जाता है। कुछ लोग सरसो का तेल इस्तेमाल करते है तो कुछ लोग नारियल या सोयाबीन का तेल सब तेल के अपने अपने गुण व लाभ होते है। आज हम जिस तेल के बारे में बात कर रहे है वह तिल का तेल जो कि सेहत की दृष्टि से हमारे लिए बहुत ही लाभप्रद है।  एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर तिल का तेल अनेको बीमारियों से हमे राहत दिलाता है। आइए जानें इसके अन्य स्वास्थ्य लाभ –

1 डायबिटीज के लिए फायदेमंद – मधुमेय के रोग के लिए तिल का तेल अत्यंत फायदेमंद है।  शुगर के मरीज़ो को अपने नित्य आहार में तिल का तेल शामिल करना चाहिए।  इससे उनका शुगर लेवल नियंत्रित रहेगा।

त्वचा चमकाएं – विटामिन इ व बी से भरपूर तिल का तेल त्वचा के लिए बहुत ही लाभप्रद है।  तिल के तेल के रोज़ाना इस्तेमाल से चेहरे के दाग धब्बों से छुटकारा मिलता है और त्वचा पर ग्लो आता है।  अपने आहार में तिल का तेल शामिल करें।

गठिया का दर्द दूर करे – बढ़ती उम्र में गठिया का दर्द अधिकतर लोगों को परेशान करता है।  गठिया से पीड़ित व्यक्ति यदि तिल के तेल की मालिश रोज़ाना करे तो उन्हें गठिया के दर्द से अवश्य आराम मिलेगा।  इसकी मालिश करने से शरीर को सूजन भी कम हो जाती है।

हड्डियां बनाएं मजबूत – तिल के तेल में कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है।  इस तेल से मालिश करने से हड्डियां मजबूत बनती है।  साथ ही यह तेल हड्डियों के दर्द से भी राहत दिलाता है।

5 रक्त संचार में फायदेमंद – शरीर में सही ढंग से रक्त संचार न होने की वजह से शरीर के अंगो में कुछ न कुछ समस्या उतपन्न हो जाती है। तिल के तेल की मालिश से आपके शरीर में रक्त संचार सुचारु रूप प्रवाहित होगा और आप स्वस्थ रहेंगे।

यह भी पढ़ें:

क्या मैस्टरबेशन या सम्बन्ध बनाने के दौरान स्पर्म निकलने से शरीर की इम्युुनिटी पर असर पड़ता है? जानिए सही जवाब

 पाचन संबंधी हर समस्या होगी छूमंतर, अपनाएं ये आयुर्वेदिक तरीके