भारत और जापान के बीच हुए कई समझौते, 5जी और AI पर काम करेंगे दोनों देश

भारत और जापान ने बुधवार को एक महात्वाकांक्षी समझौते पर सहमति जताई हैं। जिसके तहत दोनों देश 5जी टेक्नोलॉजी, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और कुछ अन्य गंभीर क्षेत्रों पर एक-दूसरे का सहयोग करेंगे। साथ ही दोनों देश हिंद-प्रशांत क्षेत्र सहित अपने संबंधों को और व्यापक बनाने के लिए प्रयास करेंगे।

भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर और उनके जापानी समकक्ष तोशिमित्सू मोतेगी ने बुधवार को टोक्यो में बैठक की। जिसके बाद घोषणा की गई कि हिंद-प्रशांत महासागर की पहल (आईपीओआई) के लिए कनेक्टिविटी पिलर में जापान शीर्ष भागीदार बनने पर सहमत हुआ है।

बैठक के बारे में डॉ. जयशंकर ने ट्वीट का कहा ‘भारत और जापान के विदेश मंत्रियों की 13वीं रणनीतिक वार्ता में विकास परियोजनाओं पर ध्यान केंद्रित करने के साथ तीसरे विश्व के देशों (थर्ल्ड वर्ल्ड कंट्री) में दोनों देशों के सहयोग में और विस्तार लाने पर चर्चा की गई। बता दे आईपीओआई एक भारत समर्थित फ्रेमवर्क है, जिसका उद्देशय हिंद-प्रशांत क्षेत्र में एक सुरक्षित और समृद्ध समुद्री क्षेत्र बनाने के लिए सार्थक प्रयास करना है।

यह भी पढ़े: IPL 2020: राजस्थान रॉयल्स के कप्तान स्टीव स्मिथ पर लगा 12 लाख रुपये का जुर्माना
यह भी पढ़े: बिहार चुनाव: मुकेश सहनी ने थामा NDA का दामन, BJP ने अपने कोटे से दी 11 सीटें

Loading...