ठंडे पानी के सेवन से पैदा होती है पाचन संबंधित गंभीर समस्या

भीषण गर्मी से छुटकारा पाने के लिए अक्सर लोग ठंडा पानी पीते हैं। बाहर से आते ही लोग फ्रिज में रखा ठंडा पानी तुंरत पी लेते हैं जोकि सेहत को बहुत अधिक नुकसान पहुंचता है। अायुर्वेद में इस आदत को अनहैल्दी माना जाता है। इससे शारीरिक संबंधित कई गंभीर परेशानियों को झेलनी पड़ सकती है। अगर आप भी अत्यधिक मात्रा में ठंडा पानी पीते हैं तो आज ही इस आदत को बदल लें। आज हम आपको बताते है कि क्यों अधिक मात्रा में ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए।

ज्यादा ठंडा पानी पीने के नुकसान

– शरीर में पोषक तत्वों की कमी

शरीर का सामान्य तापमान 37 डिग्री सेल्सियस होता है। दरअसल, ठंडा पानी पीने से बॉडी को तापमान नियंत्रित करने के लिए अत्यधिक एनर्जी खर्च करनी पड़ती है, जिससे शरीर में पोषक तत्वों की बहुत कमी हो जाती है।

– गला खराब

अत्यधिक मात्रा में ठंडे पानी का सेवन करने से गला खराब व गले की खराश जैसी गंभीर समस्या हो सकती है। इसके अलावा भी कई इंफेक्शन का खतरा होता है।

– पाचन संबंधित समस्याएं

ठंडे पानी का ज्यादा सेवन करने से पाचन संबंधित कई गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इससे रक्त वाहिकाएं सिकुड़ जाती हैं, जिससे पेट तक पर्याप्त मात्रा में खून नहीं पहुंच पाता। इससे अलावा खाना पचाने में अधिक एनर्जी लगती है।

Loading...