शैम्पू में होते हैं जायद मात्रा में एल्डीहाइड जो हमारे शरीर के लिये हो सकता है खतरनाक

अधिकतर शैम्पू में पाए जाने वाले कैमिकल ग्रुप का नाम ‘एल्डीहाइड’ है जो कि हमारे शरीर में छोटे-छोटे एमाउंट में बनता है। यह हमारे एन्वायरन्मेंट में हर जगह मौजूद होता है। शैम्पू में बहुत ज्यादा एल्डीहाइड होने से कैंसर होने का खतरा बना रहता है। इस वजह से डीएनए के फिक्स रहने की कार्य क्षमता घट जाती है।

आज के प्रदूषित वातावरण में हम सांस के जरिए बहुत से कैमिकल्स‍ अंदर ले रहे हैं और ये कितनी बहुत देर तक वातावरण में मौजूद रहते हैं। इन सब में एल्डीहाइड हर जगह मौजूद होता है।

ये कैमिकल्स आपके डिफेंस मकैनिज़्म को कमजोर कर देते हैं। जिसकी वजह से डीएनए को रिपेयर करने वाले हेल्दी सेल्स एक दूसरे से डिवाइड हो जाते हैं। एल्डीहाइड प्रोटीन सेल्स की कमी के कारण होता है जो कि सेल्स को काफी कमजोर बना देता है। ऐसे में आपको ब्रैस्ट , ओवरियरन, प्रोस्टेट और पैंक्रियाटिक कैंसर होने की आशंका बढ़ जाती है।