हार्मोन को पूरी तरह संतुलित करता है शिलाजीत

सामान्यतः शिलाजीत को मर्दानगी बढ़ाने में बहुत फायदेमंद माना जाता है। लेकिन शिलाजीत का सही तरीके से उपयोग किया जाए तो यह कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम भी पूरी तरह दूर करता है। इसमें मौजूद एलिमेंट बॉडी में खून को पूरी तरह साफ कर ब्लड सर्कुलेशन बेहतर बनाने में हेल्प करते हैं इससे कई तरह की गंभीर बीमारियों की प्रॉब्लम कंट्रोल होती है। तो आइये जानते है शिलाजीत के महत्वपूर्ण फ़ायदे….

मर्दानगी बढ़ाए – शिलाजीत का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह पुरूषों की यौन क्षमता को पूरी तरह बढ़ाता है। शिलाजीत में केसर, लौहभस्म और अम्बर को मिलाकर सेवन करने से पुरुषों में स्पनदोष तक की गंभीर समस्या भी ठीक हो जाती है।

तनाव की समस्या – शिलाजीत का सेवन करने से तनाव को पैदा करने वाले हार्मोन्स पूरी तरह संतुलित हो जाते हैं जिससे व्यक्ति को डिप्रैशन की गंभीर समस्या नहीं होती। और व्यक्ति तनाव मुक्त रहता है।

शारारिक ताकत – शिलाजीत शरीर को तुरंत उर्जा देने का कार्य करता है। इसमें मौजूद विटामिन और प्रोटीन से शरीर में बहुत अधिक ताकत आती है।

मधुमेह वाले मरीजों के लिए कारगर – शिलाजीत मधुमेह से ग्रसित लोगों के लिए अत्यधिक फायदेमंद औषधि है। एक चम्मच त्रिफला चूर्ण और एक चम्मच शहद को दो रत्ती शिलाजीत के साथ खाने से मधुमेह पूरी तरह ठीक हो जाता है।

ब्लडप्रेशर कंट्रोल करने में – हाइपरटैंशन के मरीजों के लिए भी शिलाजीत अत्यधिक फायदेमंद है। यह शरीर में खून को साफ करके नसों में खून की रफ्तार को ठीक करता है,जिससे बी.पी पूरी तरह कंट्रोल हो जाता है।

शरीर की त्वचा पर झुर्रियां खत्म करने में – उम्र बढ़ने के साथ ही चेहरे और शरीर की त्वचा पर झुर्रियां भी पड़ने लगती है। ऐसे में सफेद मसूली, अश्वगंधा और शिलाजीत को मिलाकर बनाई गई दवा शरीर को फिर से पूरी तरह जवां बनाने का काम करती है। और त्वचा को पूरी तरह जवां बनाये रखती है।

रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना – शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता को पूरी तरह बढ़ाना शिलाजीत का ही कार्य होता है। दूध के साथ शुबह शाम शिलाजीत को खाने से इंसान कभी बीमार नहीं पड़ता।

मूत्र संबंधी बीमारियों को ठीक करने में – शहद के साथ छोटी इलायची के दाने और शिलाजीत को मिलाकर खाने से अधिक मूत्रता होने की गंभीर समस्या ठीक होती है।