शिंदे गुट ने तेजस्वी से मुलाकात को लेकर आदित्य पर साधा निशाना

मुंबई,(एजेंसी/वार्ता) : महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे की बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से मुलाकात की आलोचना की है और इसे मुंबई तथा राज्य के अन्य हिस्सों में बिहारी वोट हासिल करने की राजनीति करार दिया। .

शिंदे गुट के प्रवक्ता के नरेश म्हस्के ने गुरुवार को संवाददाताओं से कहा, “श्री उद्धव ठाकरे के पुत्र आदित्य ठाकरे श्री एकनाथ शिंदे के विद्रोह के बाद श्री उद्धव ठाकरे के गुट शिवसेना के पतन को रोकने के लिए राज्य भर में घूम रहे हैं। बुधवार को उन्होंने बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से मुलाकात की। जूनियर ठाकरे ने बिहार का दौरा किया क्योंकि मुंबई में उत्तर भारतीयों, विशेषकर बिहारी समुदायों की संख्या काफी है और उन्होंने बिहारियों के वोटों को हासिल करने के लिए बिहार का दौरा किया।”

उन्होंने कहा, “ भले ही श्री तेजस्वी यादव के पिता लालू प्रसाद यादव ने हमेशा शिवसेना और श्री बालासाहेब ठाकरे की विचारों का विरोध किया था, लेकिन ये लोग अब श्री तेजस्वी यादव के करीब जा रहे हैं। वास्तव में श्री तेजस्वी यादव को श्री आदित्य ठाकरे से मिलने आना चाहिए था, लेकिन इसके उल्टा हुआ। जब महाराष्ट्र मुख्यमंत्री मंत्री एकनाथ शिंदे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने दिल्ली गए , तो विपक्ष ने आलोचना की थी, अब श्री तेजस्वी यादव से मिलने श्री आदित्य ठाकरे जा रहे हैं। इससे पता चलता है कि इनका कैसा समय आ गया है।’

महाराष्ट्र मंत्री एवं कोल्हापुर जिला के पालक मंत्री दीपक केसरकर ने श्री आदित्य ठाकरे की बिहार यात्रा की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि बिहार में राम मंदिर की ‘रथयात्रा’ को रोकने वाले नेता के पुत्र तेजस्वी यादव के सामने श्री ठाकरे का वंशज घुटना टेक रहा है। उन्होंने कहा, “कुछ लोग सत्ता पाने के लिए किसी के सामने मुंह के बल लेट गए। अब ऐसे लोग राज्य की जनता के सामने बेनकाब हो गए हैं। ”

-एजेंसी/वार्ता

यह भी पढ़ें:-इन उपायों से रख सकते है अपना वजन संतुलित