शिंदे ने 42 शिवसेना और 7 निर्दलीय विधायकों के साथ दिखाया शक्ति प्रदर्शन, गई उद्धव सरकार !

राज्य में राजनैतिक भूचाल का कहर जहां पर थमने का नाम नहीं ले रहा है वहीं पर राजनैतिक घटनाक्रम में अब एकनाथ शिंदे के खेमें में 42 शिवसेना और 7 निर्दलीय विधायकों का दल शामिल हो गया है जिसकी तस्वीर सामने आई है।

भाजपा ने की ये पेशकश
आपको बताते चलें कि, उद्धव सरकार का पलड़ा कम होते ही अब भाजपा अपना दांव पेश करने लगी है जहा पर खबर है कि, पार्टी ने शिंदे को महाराष्ट्र कैबिनेट में 8 कैबिनेट रैंक और 5 राज्य मंत्री रैंक का ऑफर दिया है। साथ ही केंद्र में भी 2 मंत्री पद देने की पेशकश की है।ताजा जानकारी के मुताबिक शिवसेना के कुल 55 विधायकों में से सिर्फ 16 विधायक सीएम ठाकरे के खेमे में हैं. ऐसे में पार्टी में खलबली मची हुई है।

मध्यप्रदेश का सियासी असर
आपको बताते चलें कि, महाराष्ट्र में मध्यप्रदेश की सियासी उठापटक की झलक दिखाई दे रही है जहां पर ज्योतिरादित्य सिंधिया के अपने विधायको के साथ कर्नाटक चले जाने से कांग्रेस सरकार धराशाई हो गई थी जहां पर मान-मनोव्वल के बाद भी वे नहीं माने और आखिरी कमलनाथ को इस्तीफा सौंपना पड़ा।

3 विकल्पों से क्या बचेगी लाज
आपको बताते चलें कि, महाराष्ट्र की उद्धव सरकार तो गिर गई है वहीं पर तीन विकल्प सामने आ रहे है। जिसमें पहला विकल्प एकनाथ को सीएम बना दे. दूसरा विकल्प शिवसेना, बीजेपी से हाथ मिला ले या फिर एकनाथ शिंदे शिवसेना तोड़ने में कामयाब हो जाएं।

यह भी पढ़ें:

अमेरिका ने नाटो के 12 सदस्य देशों को युद्ध सामग्री की बिक्री को मंजूरी दी