शिव सेना के एकनाथ शिंदे ने की पार्टी से बगावत

महाराष्ट्र में 20 जून को विधान परिषद की 10 सीटों के लिए हुए मतदान में क्रास वोटिंग के बाद श्री एकनाथ शिंदे 32 विधायकों के साथ सूरत चले गये जिसके बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को अपने सरकारी आवास वर्षा में विधायकों की बैठक की।

बैठक में 14 विधायक उपस्थित थे। बैठक में श्री शिंदे को विधायक दल के नेता के पद से हटा कर श्री संजय चौधरी को विधायक दल का नेता बनाया गया।


शिंदे के बगावत के बाद महाराष्ट्र सरकार के गिरने की आशंका है और अब अपनी सरकार बचाने के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के मुखिया शरद पवार ने दिल्ली में कहा कि राज्य सरकार को कोई खतरा नहीं है। उन्होंने

कहा कि इसके पूर्व भी राज्य सरकार को गिराने के लिए तीन बार कोशिश की गयी थी लेकिन हमारी सरकारी सुरक्षित
रही और इस बार भी सरकार चलती रहेगी।

यह भी पढ़ें:-

अनुराग कश्यप की बेटी आलिया ने बॉयफ्रेंड को किया लिपलॉक, पानी के अंदर रोमांटिक हुआ कपल