शिवसेना को झटका, सरकार बनाने की तैयारी में शिंदे गुट, दो और विधायकों ने छोड़ा साथ

Eknath Shinde going to make govt: शिंदे गुट ने डिप्टी स्पीकर को पत्र लिखा है. उस पत्र में सभी विधायकों के हस्ताक्षर हैं और सरकार बनाने का दावा ठोंका है. ऐसे में अभी यह स्पष्ट नहीं है कि शिंदे गुट ने किसके समर्थन से यह पत्र लिखा है.

Eknath Shinde going to make govt: असम के गुवाहाटी में ठहरा हुआ महाराष्ट्र का बागी गुट अब सरकार बनाने की ओर बढ़ रहा है. एकनाथ शिंदे की ओर से विधानसभा के डिप्टी स्पीकर को एक पत्र लिखा गया है. माना जा रहा है कि अब शिंदे गुट कुछ अलग ही तैयारी में है. इसी वजह से कहा जा रहा है कि जल्द ही महाराष्ट्र में बड़े उलटफेर देखने को मिलेंगे. इस सियासी रस्साकशी के बीच भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस दिल्ली रवाना हो गए हैं.

सरकार बनाने में कितने कामयाब शिंदे?

सूत्रों की मानें तो शिंदे गुट ने डिप्टी स्पीकर को पत्र लिखा है. उस पत्र में सभी विधायकों के हस्ताक्षर हैं और सरकार बनाने का दावा ठोंका है. माना जा रहा है कि इन्हें अलग गुट के तौर पर मान्यता दी जाएगी. ऐसे में अभी यह स्पष्ट नहीं है कि शिंदे गुट ने किसके समर्थन से यह पत्र लिखा है. बता दें कि फिलहाल उन्हें सरकार बनाने के लिए या तो भाजपा से समर्थन चाहिए होगा या फिर पुराने गठबंधन में ही शामिल होना होगा.

नहीं थम रहीं उद्धव ठाकरे की मुश्किलें

साथ ही गौर करने वाली बात यह भी है कि फिलहाल उद्धव ठाकरे को एक और बड़ा झटका लगा है. खबर है कि शिवसेना के 2 और विधायक टूट गए हैं. कहा जा रहा है कि उद्धव ठाकरे का संदेश लेकर सूरत गए विधायक रवि फाटक एक और अन्य विधायक के साथ गुवाहाटी पहुंच गए हैं. माना जा रहा है कि वो भी शिंदे गुट में शामिल हो सकते हैं.

शिंदे के पाले में है गेंद!

आपको बता दें कि फिलहाल गेंद पूरी तरह से शिंदे पक्ष के ही पाले में है. उन्हें भाजपा और शिवसेना दोनों ही ओर से अच्छे प्रस्ताव दिए जा रहे हैं. शिवसेना नेता संजय राउत ने भी कहा कि अगर सभी विधायक चाहेंगे तो वो महा विकास अघाड़ी (MVA) से बाहर निकलने पर विचार कर सकते हैं. इसके अलावा भाजपा की ओर से भी उन्हें सरकार बनाने के लिए समर्थन का ऑफर दिया जा रहा है.

भाजपा ने दिया ये ऑफर

भाजपा की ओर से कहा गया है कि शिंदे अगर NDA खेमे में शामिल होते हैं तो उन्हें 13 मंत्री पद और केंद्रीय मंत्रियों का पद भी दिया जाएगा.