चीनी कंपनी वीवो को स्पॉन्सर रखने पर SJM ने की IPL बहिष्कार की अपील

बीसीसीआई द्वारा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के लिए चीनी प्रायोजक के साथ बने रहने पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक (आरएसएस) से संबद्ध स्वदेशी जागरण मंच (एसजेएम) ने आपत्ति दर्ज कराई है। एसजेएम ने सोमवार को कहा कि एक समय जब देश अपनी अर्थव्यवस्था को चीनी प्रभुत्व से मुक्त बनाने का प्रयास कर रहा है। ऐसे में दूसरी तरफ बीसीसीआई द्वारा आईपीएल के लिए चीनी स्पोंसर को बनाये रखना देश की जनभावना के खिलाफ है। .

एसजेएम ने इस फैसले पर आपत्ति जताते हुए लोगों से इस बार आईपीएल का बहिष्कार करने की अपील की है। एसजेएम के सह-संयोजक अश्वनी महाजन ने एक बयान में कहा कि बीसीसीआई और आईपीएल की संचालन समिति ने चीनी सैनिकों के साथ झड़प में शहीद हुए भारतीय सैनिकों का अनादर किया है।

महाजन ने कहा कि देश की सुरक्षा और गरिमा से बढ़कर कुछ भी नहीं है। रविवार को टूर्नामेंट के प्रमुख प्रायोजकों के रूप में चीनी कंपनियों के साथ बने रहने का फैसला कर आईपीएल संचालन समिति ने देश का अपमान किया है। बता दे बीते पांच साल से चीनी मोबाइल निर्माता कंपनी ‘वीवो’ आईपीएल की प्रायोजक है। वीवो ने पांच साल के इस करार के लिए बीसीसीआई को 2,000 करोड़ रुपए से अधिक का भुगतान किया है।

यह भी पढ़े: नाइकी के साथ खत्म हो रहा अनुबंध, BCCI ने स्पॉन्सर के लिए जारी किया टेंडर
यह भी पढ़े: सुशांत केस: जाँच करनेवाली टीम का नेतृत्व करने गए IPS अधिकारी को ज़बरदस्ती किया क्वोरंटीन