Breaking News
Home / लाइफस्टाइल / छींक रोकने के लिए करें इन चीज़ों का सेवन, मिलेगा लाभ

छींक रोकने के लिए करें इन चीज़ों का सेवन, मिलेगा लाभ


Loading...

मौसम बदल चुका है और सर्दियां बढ़ चुकी है| ऐसे में जुकाम, छींक और खांसी आम समस्या होती है| छींक की प्रॉब्लम को दूर करने के लिए बहुत से घरेलू नुस्खे होते हैं जो आपकी सेहत को फायदा पहुंचाते है| धूल, गंदगी की वजह से अकसर छींक की प्रॉब्लम का लोगो को सामना करना पड़ता है| आइए जानें आप कैसे छींक की प्रॉब्लम से निजात पा सकते है|

1. मेथी के बीज का यूज़ करें

एंटी बैक्टीरियल तत्व मेथी के बीज में अधिक मात्रा में पाए जाते है| इसके सेवन से छींक की समस्या को दूर किया जा सकता हैं। छींक से छुटकारा पाने के लिए दो चम्मच मेथी को पानी में मिक्स कर के बॉइल कर लें। उबलने पर इस पानी को छान लें और इसका उपयोग करें। बहुत फायदा मिलेगा|

2. कैमोमाइन चाय का सेवन

छींक आने की समस्या को दूर करने के लिए कैमोमाइन चाय का सेवन करें| पानी को बॉइल करें और उसमें कैमोमाइल के सूखे फूल डाल दें| थोड़ी देर बाद इस मिक्सचर में एक चम्मच शहद मिक्स कर लें। इस पानी का सेवन पूरे दिन में दो बार करें। छींक नहीं आएगी|

3. काली मिर्च का यूज़ करें

छींक की समस्या से छुटकारा पाने के लिए काली मिर्च का सेवन करना बेहद फायदेमंद होता है। इसका उपयोग करने के लिए काली मिर्च को गुनगुने पानी में मिला लें और फिर रात्रि में इस मिक्सचर को दूध में डालकर पीएं । बहुत आराम मिलेगा|

4. अदरक है फायदेमंद

छींक से राहत पाने के लिए अदरक सबसे ज्यादा फायदेमंद होती है| इसके इस्तेमाल से दर्द, गठिया, कब्ज, पेट दर्द और शुगर में लाभ मिलता है| इसका उपयोग करने के लिए अदरक के टुकड़े को पानी में डालकर बॉइल कर लें। इसके बाद इस पानी में हल्का सा शहद डाल लें और रात्रि में पीएं। ऐसा करने से बहुत लाभ मिलेगा|

5. सौंफ की चाय का सेवन करें

सौंफ की चाय का इस्तेमाल करने से छींक को दूर किया जा सकता है। इसमें बहुत से एंटी वायरल और एंटी बायोटिक तत्व मौजूद होते हैं जिससे शरीर को फायदा मिलता है। सौंफ की चाय छींक से छुटकारा दिलाने में बहुत फायदेमंद होती है। इसका उपयोग करने के लिए आप एक गिलास पानी में दो स्पून सौंफ मिक्स कर लें और इस मिक्सचर को बॉइल कर लें| फिर इसका सेवन करें| बहुत लाभदायक मिलेगा|

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *