सिपाही ने गर्लफ्रेंड को वीडियो कॉल कर फांसी लगाई, डायरी में लिखे भावुक शब्द

उत्तर प्रदेश के कानपुर में नौबस्ता थाने के सिपाही ने शुक्रवार रात प्रेमिका को वीडियो कॉल कर कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जिसकी सूचना शनिवार को पुलिस को लगी और पुलिस ने शव को फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक सिपाही के मोबाइल व डायरी को फॉरेंसिक टीम ने अपने कब्जे में ले लिया है। बता दे मृतक सिपाही मूलरूप से आगरा निवासी था। वह वर्ष 2018 बैच का था जिसका नाम विकास सोनी और उम्र 24 साल थी।

विकास सोनी नौबस्ता थाने में इंस्पेक्टर के हमराह थे। वह पांच दिन पहले ही थाने के पीछे रहने वाले प्रमोद कुमार गौतम के मकान में किराये से रहे थे। थाना प्रभारी आशीष शुक्ला के द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक जब बह नौ बजे जब विकास थाने पर नहीं पहुंचा तो उसे थाने से कई फोन किये गए। जवाब ना मिलने पर थाने से एक सिपाही उसके कमरे में भेजा गया। सिपाही ने कमरे में देखा कि विकास का शव पंखे के कुंडे के सहारे चादर से लटका हुआ था।

मोबाइल उसके के ठीक सामने खिड़की पर इस तरह से रखा था, जिससे पुलिस को आशंका हुई कि विकास ने वीडियो कॉल कर फांसी लगाई। परिवार में विकास तीन भाइयों और एक बहन में दूसरे नंबर का था। साथी पुलिसकर्मियों के मुताबिक विकास सभी से हंसकर बात करता था और वह अक्सर आगरा की एक लड़की से फोन पर बात किया करता था। युवती आगरा विकास प्राधिकरण में क्लर्क के पद पर कार्यरत है। दोनों के बीच कई बार अनबन हो जाती थी।

विकास ने आखिरी बार मरने से पहले अपनी डायरी में कुछ शब्द लिखे थे जो इस तरह है ‘जब मेरी जिंदगी के वो आखिरी पल, सेकेंड होंगे तो रो रहा होऊंगा और रोते, रोते, रोते किसी से कुछ नहीं कहूंगा। बस हंस रहा होऊंगा और मन में यही चल रहा होगा कि यार क्या जिंदगी थी…तू जो आ गया।’

यह भी पढ़े: दुनियाभर में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, 100 घंटे में 10 लाख मामले दर्ज
यह भी पढ़े: जलियांवाला बाग की नई गैलरी में लगाई गई अर्धनग्न तस्वीरें, पीएम से की जांच की मांग