ब्रेन हेमरेज होने के कुछ महत्वपूर्ण कारण

कुछ बीमारियां दबे पाओ आती है और कुछ दिन में ब्रेन हेम्रेज का कारण भी बन जाती है। इन्हे साइलेंट किलर डिजीज भी कहा जाता है। आइए आज हम आपको बताते है कि इन बीमारियों के कारण भी हो सकता है ब्रेन हेम्रेज –

हाई ब्लड प्रेशर: हाई ब्लड प्रेशर के कारण भी दूसरी समस्या पैदा हो जाती है। हाई ब्लड प्रेशर जेनेटिक करने से या फिर टेंशन के कारण होता है। इस के कारण ब्रेन हेम्रेज, हार्ट अटैक, किडनी फेल्यॉर, आंखें खराब होने वाला लकवा आदि होने की संभावना होती है।

करें ये उपाय:

इससे बचने के लिए 5 ग्राम से अधिक नमक का सेवन ना करे। गहि, नॉनवेज और तेज मसालों और फ़ास्ट फ़ूड से परहेज करे। फल और सलाद को डाइट में शामिल करे।

डायबिटीज: डायबिटीज में शरीर के अंदर इन्सुलिन बनना बंद हो जाता है। डायबिटीज में शरीर इन्सुलिन का ठीक से उपयोग कर पाने में असफल हो जाता है। यह बीमारी होने पर तेजी से वजन घटता है, अत्यधिक प्यास लगती है, घाव जल्दी नहीं भरता है, आँखों में धुंधलापन, पैरो में झनझनाहट आदि समस्या होती है।

करें ये उपाय: यदि यह बीमारी गंभीर रूप ले ले तो आँखों में अंधापन, दिमाग को लकवा, किडनी फेल्यॉर, हृदय संबंधी बीमारियां होने की संभावना होती है। इससे बचाव के लिए संतुलित आहार ले। नियमित रूप से व्यायाम करने से इस बीमारी से बचा जा सकता है।