त्वचा और बालों के लिए बेहद फायदेमंद है पालक, डायबिटीज़ को भी रखती है नियंत्रित

पालक एक तरह की हरी सब्जी होती है। इसमें आयरन की भरपूर मात्रा पाई जाती है। पालक को खाने से शरीर एकदम स्वस्थ रहता है। इसमें मौजूद आयरन हर अंग तक ऑक्सीजन पहुंचाता है, साथ ही लाल रक्त कणिकाओं को भी बढ़ाता है। इसका सेवन करने से शरीर में खून की कमी बिलकुल नहीं रहती। एनीमिया के रोगियों को डाइट में पालक जरूर शामिल करनी चाहिए। आइए जानें इससे मिलने वाले अन्य फायदों के बारे में –

पाचन तंत्र को बनाए सुचारु :

फाइबर से भरपूर पालक खाने से पाचन तंत्र एकदम सुचारु रहता है। अगर आप पेट संबंधी किसी भी समस्या से जूझ रहे हैं तो पालक का सेवन कर सकते हैं। कब्ज की स्थिति में भी पालक खाना बेहद लाभदायक होता है। सबसे पहले पालक को उबाल लें और फिर उसमें कुछ मात्रा पानी की मिलाकर पीएं। कब्ज से राहत मिलेगी। पालक खाने से मोटापा भी कम हो जाता है और वजन एकदम नियंत्रित रहता है।

बाल झड़ने से रोके :

आयरन और विटामिन सी से भरपूर पालक बाल झड़ने की समस्या से निजात दिलाता है। इसका सेवन करने से बाल एकदम शाइनी बनते हैं।

डायबिटीज कंट्रोल में रखे :

चूंकि पालक में कैलोरी बहुत कम पाई जाती है, ऐसे में यह मधुमेय के रोगियों पर बिलकुल भी बुरा प्रभाव नहीं डालता। इसका सेवन करने से खून में ग्लूकोज की मात्रा एकदम कंट्रोल में रहती है। ऐसे में डाइबिटीज़ को भी नियंत्रित रखा जा सकता है।

त्वचा के लिए लाभदायक

पालक में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं। इसका सेवन करने से शरीर में मौजूद विषैले तत्व दूर हो जाते हैं। ऐसे में शरीर में मौजूद रक्त साफ हो पाता है। ऐसे में स्किन पर दाग-धब्बे और पिंपल्स की समस्या बिल्कुल भी नहीं होती।

गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद :

गर्भावस्था के दौरान शुरुआत में आयरन की कमी महिलाओं में अक्सर देखने को मिलती है। ऐसे में रोज़ाना पालक का सेवन करना बहुत जरूरी होता है। जब गर्भ में भ्रूण विकसित होता है तो उसके डेवलपमेंट के लिए शरीर को खून की सबसे ज्यादा जरूरत पड़ती है, ऐसे में पालक का सेवन करने से शरीर में लाल रक्त कणिकाओं का निर्माण अच्छे से हो पाता है।

यह भी पढ़ें : अब है खर्राटों की समस्या का स्थायी इलाज

सप्ताह में एक दिन करें उपवास या व्रत , मिलेंगे ये फायदे