खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कहा, निकट भविष्य में किसी भी इंटरनेशनल टूर्नामेंट की मेजबानी नहीं करेगा भारत

शनिवार को खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कोरोना महामारी को देखते हुए निकट भविष्य में देश में किसी भी प्रकार के अंतराष्ट्रीय टूर्नामेंट की मेजबानी नहीं करने का फैसला किया है। साथ ही उन्होंने कहा कि अब खेल प्रशंसकों को बिना दर्शक ही स्टेडियम में होने वाली गतिविधियों का लुत्फ उठाने के बारे में सीखना होगा। खेल मंत्री के अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट की मेजबानी नहीं करने के फैसले का प्रभाव इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) पर सबसे ज्यादा होगा।

दरअसल आईपीएल में कई विदेशी खिलाड़ी भारत आकर खेलते है। ऐसे में यदि देश में अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट की मेजबानी नहीं होती है तो संभव है आईपीएल में विदेशी खिलाड़ियों के आने पर भी संशय बन जाए। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अक्टूबर-नवंबर में ऑस्ट्रेलिया में प्रस्तावित टी20 विश्व कप को कराने की योजना बना रहा है। खेल मंत्री रिजिजू ने फिलहाल अभ्यास और प्रशिक्षण के बारे में सोचने के बारे में कहा।

किरण रिजिजू ने कहा कि वह तुरंत टूर्नामेंट शुरू करने की स्थिति में नहीं है। अनिश्चित काल के लिए स्थगित किये गये आईपीएल के 13वें संस्करण के बारे में पूछे जाने पर खेल मंत्री ने कहा कि देश में किसी भी टूर्नामेंट का आयोजन करने से जुड़ा निर्णय लेने का विशेषाधिकार सरकार के पास है। वही एक साल तक स्थगित हुए टोक्यो ओलंपिक के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने उम्मीद जताते हुए कहा कि जल्द ही ये खेल नई तारीख पर शुरू होंगे।

यह भी पढ़े: आउटडोर प्रैक्टिस शुरू करने वाले शार्दुल ठाकुर बने BCCI अनुबंधित पहले भारतीय क्रिकेटर
यह भी पढ़े: बलात्कार के आरोपी धर्मगुरु दाती महाराज पर लॉकडाउन नियमों के उल्लंघन का लगा आरोप

Loading...