कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट से निपटने के लिए तैयार रहें राज्य: केंद्र सरकार

वैश्विक महामारी कोरोना को हराने के लिए दुनियाभर के देशों को वैक्सीन का बेसब्री से इंतजार हैं। कई बड़े देश अपने स्तर पर वैक्सीन का निर्माण करने में लगे हैं, जिसमें भारत का नाम भी शामिल हैं। भारत सरकार ने सभी राज्यों को निर्देश दिया हैं कि वे वैक्सीन आने के बाद उससे जुड़े साइड इफ्केट से निपटने के लिए तैयार रहें। केंद्र का राज्यों से कहना हैं कि साइड इफ्केट से निपटने के लिए व्यवस्था करना शुरू कर दें ताकि जनता के बीच सुरक्षित वैक्सीन दी जा सके।

केंद्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों को पत्र लिखकर अगले साल होने वाले टीकाकरण कार्यक्रम की योजना बनाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कहा गया है कि टीकाकरण की सुरक्षा में विश्वास बनाए रखने के लिए कोविड -19 टीकाकरण की (AEFI) निगरानी के बाद प्रतिकूल घटनाओं को मजबूत करने के लिए कदम उठाए जाने की जरुरत हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव मनोहर अगनानी द्वारा यह पत्र राज्य सरकारों को भेजा गया है।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रमुखों के साथ बातचीत की थी। इस दौरान उन्होंने वैक्सीन से संबंधित दुष्प्रभावों से निपटने की संभावना पर भी ध्यान देने की बात कही थी। साथ ही वैक्सीन वितरण को सफल बनाने के कदम उठाने की बात कही।

यह भी पढ़े: दिल्ली हाईकोर्ट का फरमान, वयस्क लड़की किसी के भी साथ रहने के लिए स्वतंत्र हैं
यह भी पढ़े: ऐसे ब्यूटी प्रोडक्ट्स, जिनका उपयोग नहीं करना चाहिए प्रेगनेंसी के दौरान