Breaking News
Home / ट्रेंडिंग / नागरिकता संशोधन बिल के बाद NRC के बारे में यह क्या बोल गए अमित शाह!

नागरिकता संशोधन बिल के बाद NRC के बारे में यह क्या बोल गए अमित शाह!

नागरिकता संशोधन बिल 2019 को सोमवार देर रात में लोकसभा में पास कर दिया गया है। लोकसभा में 6 घंटा से ज्यादा चले इस डिबेट में बिल की खामियों और खासियतों के बारे में लंबी चर्चा होती दिखाई दी। बिल के पक्ष में 311 सांसदों ने अपना वोट दिया और विपक्ष से 80 वोट आए।

एनआरसी आने वाला है

बिल पर चर्चा के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपने भाषण में कहा कि मोदी सरकार देश में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन लेकर आएगी और जब एनआरसी की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी तो देश में एक भी अवैध घुसपैठ और घुसपैठियें नहीं होंगे।

Loading...

अमित शाह ने अपने बयान में एनआरसी के तरफ इशारा करते हुए कहा कि , “मानकर चलिए एनआरसी आने वाला है.” आपको बता दें कि इस वक्त सिर्फ असम राज्य में एनआरसी की प्रक्रिया चालू है। अबतक हुई कार्यवाही में लगभग 19 लाख लोगों का नाम एनआरसी रजिस्टर में सामने नहीं आया है।

एनआरसी वो प्रक्रिया है जिसके जरिए देश में गैट तरीके से घुसे घुसपैठियों को पहचान करने की कोशिश की जा रही है। गृह मंत्री अमित शाह ने ऐसे घुसपैठियों के खिलाफ कार्यवाहीन करने और उन्हे देश से बाहर निकालने का वादा किया है।

अलग अलग होते है घुसपैठ और शरणार्थी

भाषण देते हुए अमित शाह ने कहा है कि देश में रह रहे शरणार्थियों को डरने की कोई आवश्यकता नहीं है। उन्होंने घुसपैठियों और शरणार्थियों में अंतर भी बताया।

अमित शाह ने कहा कि जो भी हिन्दू, बौद्ध, सिख, पारसी, इसाई और जैन पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में धार्मिक यातनाओं के शिकार हुए हैं और वे इस हालत में भारत आते हैं तो वे शरणार्थी कहलाएंगे, उन्हे भारत की नागरिकता दी जाएगी। उसी के विपरीत जो लोग बांग्लादेश की सीमा से भारत में घुसते हैं, चोरी-छुपे आते हैं वे घुसपैठिए कहलाएंगे।

अमित शाह ने कहा कि ऐसे लोगों की भारत में कोई आवश्यकता नही है।

मुसलमानों को नहीं है कोई खतरा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपने भाषण में बार-बार कहा कि इस बिल से भारत में रह रहे मुसलमानों को किसी भी हालात में डरने की जरूरत नहीं है।

उन्होंने कहा कि इस बिल का भारत के मुसलमान नागरिकों पर कोई असर नहीं पड़ेगा। इसलिए उन्हें डरने की कोई जरूरत नहीं है। अमित शाह ने कहा कि कई पार्टियां इसे लेकर गलत बातें फैलाने का काम कर रही हैं।

– गौतम झा 

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *