पेट की कब्ज त्वचा की खराबी का सबसे बड़ा कारण

सर्दियों में त्वचा का खास ख्याल रखना पड़ता है। सर्दियों में खून का दौरान कम होने से त्वचा रूखी हो जाती हैरुखी त्वचा के कारण चेहरे और हाथ पैरों में खुजली होती हैजिस कारण त्वचा का फटना और जख्म जैसी गंभीर परेशानियां सामने आती हैं।

 घरेलू फॉर्मूले से सुरिक्षत रखें त्चचा को

सर्दियां आने से पहले टीवी पर सर्दियों मे इस्तेमाल होने वाली कोल्र्ड क्रीम के एड शुरु हो जाते हैं। कोल्ड क्रीम से त्वचा को रूखा और शुष्क होने से बचाया जाया जा सकता है। लेकिन कई ऐसे घरेलू फॉर्मूले हैं जिनसे आप अपनी त्वचा को सुरक्षित रख सकते हैं।

आयुर्वेदिक फॉर्मूला

त्वचा को सर्दी से सुरक्षित रखने के लिए आयुर्वेदिक इलाज में एक से एक बढक़र उपाय हैंआयुर्वेदिक फॉर्मूले से त्वचा को नरम और खूबसूरत बनाने के कई उपाय हैं।

घरेलू उपचार

घरेलू उपचार कई आयुर्वेदिक इलाज से मेल खाते हैंत्वचा के आयुर्वेदिक उपाय में हल्दी सबसे प्रमुख प्रमुख है। हल्दी त्वचा के लिए बहुत महत्व रखती है। हल्दी का पाउडर त्वचा के लिए काफी लाभकारी होता है,आयुर्वेदिक स्किन स्पेश्लिस्ट के निर्देशानुसार आप हल्दी का उपयोग कर अपनी त्वचा का दमका सकते हैं।

घर बैठे करें उपाय

इसके अलावा कई ऐसे कई उत्पाद हैं जिनके जरिए आप घरे बैठे त्वचा को निखार सकते है। सर्दियों की मौसमी हरी सब्जियों का उपयोग करके भी आप अपने शरीर की त्वचा का नरम और खूबसूरत बना सकते हैं।

मौसमी फल और सब्जियां

कई ऐसे फल और सब्जियां हैं जिनका उपयोग कर आप अपने पेट को साफ और बैलेंस में रख सकते हैं,क्योंकि खूबसूरत त्वचा के लिए पेट का साफ होना बहुत जरूरी है। पेट से शुरु होता है। अगर आपका पेट साफ रहता है तो आपकी त्वचा भी खिल जाती है।

पेट की कब्ज बड़ा कारण

पेट की कब्ज त्वचा की खराबी का बड़ा कारण हैसर्दियों के मौसमी फल और सब्जियां खाकर आप पेट को ठंडा रख  सकते हैं। सर्दियों में गाजर,मूलीपालकर पौदीनालॉकीअंगूरसंतरा खाकर आप अपने पेट को ठंडा रख सकते हैं और अपनी त्वचा का मुलायम और खिलती और दमकती हुई बना सकते हैं।