ऐसे तरीकों से रोकें अपनी कार ब्रेक फेल हो जाने के बाद भी

दुनिया-भर में हर साल सड़क दुर्घटनाओं में करीब 12 लाख लोगों की मौत हो जाती है और 5 करोड़ लोग घायल हो जाते हैं।

कार चलाते समय ध्यान रखने योग्य बातें

अगर सड़क गीली है या उस पर धूल-मिट्टी या बजरी फैली हुई है, तो टायर को अच्छी ग्रिप नहीं मिल पाती। इसलिए ऐसी सड़कों पर गाड़ी धीमी रफ्तार से चलाएँ ताकि ब्रेक लगाते वक्‍त गाड़ी के फिसलने की गुंजाइश कम हो। अगर आप सर्दियों में बर्फीले रास्तों पर गाड़ी चलाते हैं, तो ऐसे टायर लगवाने की सोचिए जो खास तौर से बर्फीले इलाकों के लिए बनाए जाते हैं। इस तरह के टायर पर गहरी लकीरें होती हैं जिससे इनकी ग्रिप अच्छी होती है और गाड़ी फिसलती नहीं।

वाहन के ब्रेक का ख्याल

वाहनों में ब्रेक एक बहुत ही महत्वपूर्ण उपकरण हैं। वाहनों की सुरक्षा उसमें लगे ब्रेक पर निर्भर करती है। दुनिया भर में हर साल खराब ब्रेक की वजह से लाखों कारें दुर्घटनाग्रस्त हो जाती हैं और हजारों लोगों की मौत हो जाती है। अपने वाहन में लगे ब्रेक की स्थिति का हमेशा ख्याल रखना चाहिए और हर हफ्ते इसकी जांच जरूर कर लेना चाहिए। अगर आप नहीं चाहते कि आपकी कार कभी ब्रेक फेल होने की वजह से दुर्घटनाग्रस्त हो, तो कुछ बातों का रखिए ख्याल। हम आपको बताने जा रहे है कि कैसे रखें अपने वाहन के ब्रेक का ख्याल और ब्रेक फेल होने की स्थिति में कैसे बचाएं अपनी जान।

ब्रेक फेल होने से बचने के उपाय

जल्द से जल्द गियर को डाउन सिफ्ट (घटते हुए क्रम) में बदलें। उदाहरण के तौरपर अगर आपकी कार तीसरे गियर में है तो, जल्द से जल्द उसे दूसरे पर सिफ्ट करें फिर तुरंत पहले पर। इसके बाद अपना पैर क्लच और एक्सेलेरेटर से हटा लें।

कार की चाभी कभी ऑफ न करें, इससे हैंडल लॉक हो जाएगा और आप कार नहीं मोड़ पाएंगे।

पहले गियर में आने के बाद जब रफ्तार काफी धीमी हो जाए और सामने रोड सीधी हो तो कार का इंजन बंद कर दें और कार को रुकने का मौका दें।

हैंडब्रेक का इस्तेमाल भी कारगर साबित हो सकता है मगर कई कारों में चलते समय हैंडब्रेक नहीं काम करता है।

रफ्तार धीमी करने के लिए कार को सड़क के किनारे घास और मिट्टी पर चलाएं इससे कार की रफ्तार कम हो जाएगी।

कार की आपातकाल लाइटों को जला दें और हार्न का इस्तेमाल लगातार करें, इससे दूसरे ड्राइवर सावधान हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें-

मिलेगा गैस से छुटकारा, कीजिए हरे धनिए का सेवन