खर्राटों को रोकना है बहुत ही आसान, जाने कैसे

कुछ लोगों को सोते समय खर्राटे लेने की आदत होती है। उनकी यह आदत आसपास के लोगों के लिए परेशानी का सबब बन जाती है। अगर आपके खर्राटे लेने की आदत से आप और दूसरे परेशान हो गए हैं तो इन आसान उपायों को अपनाएं-

ऐसे लोग सोने से पहले गर्म पानी से नहाने की आदत डालें। दरअसल, खर्राटे तब आते हैं जब नाक और गले का पैसेज अप्राकृतिक तरीके से बंद हो जाता है या ब्लॉक हो जाता है। लेकिन जब आप गर्म पानी से नहाते हैं तो ब्लॉकेज को आसानी से हटाया जा सकता है।

आपको शायद पता न हो लेकिन आपके सोने की पोजिशन पर भी काफी कुछ निर्भर करता है। अगर संभव हो तो करवट में सोएं। पीठ के बल नहीं सोएं। वरना ज्यादा खर्राटे आएंगे। चाहें तो आप अपने साइड में तकिए रख लें और फिर सोएं। इससे शरीर को थोड़ा सहारा भी मिलता है।

जब आपकी बॉडी ठीक तरह से हाटड्रेट नहीं रहती है तो हमारे नाक और गले में कुछ चिपचिपाहट सी बनी रहती है जिससे ज्यादा खर्राटे आते हैं। कोशिश करें की शाम सात बजे बाद से ही ज्यादा पानी पीना शुरू कर दें और अपनी बॉडी को हाइड्रेटेड बनाए रखें।

अगर आपके खर्राटों का कारण नेजल कंजेशन है तो कोई भी अच्छा नेजल स्प्रे ट्राय करें। थ्रोट स्प्रे पर पैसा बर्बाद नहीं करें क्योंकि ये किसी काम के नहीं होते हैं। न ही इनसे खर्राटे रुकते हैं।