गुंथे हुए आटे को फ्रिज में स्टोर करती हैं ताकि खराब न हो, लेकिन यह आपकी सेहत के लिए होता है हानिकारक

कई महिलाएं ज्यादा आटा गूंथ लेती हैं ताकि दोबारा न गूंथना पड़े। गुंथे हुए आटे को फ्रिज में स्टोर करती हैं ताकि खराब न हो, लेकिन यह आपकी सेहत के लिए हानिकारक होता है। जानें न्यूट्रिशनिस्ट कामिनी से यह सेहत के लिए किस तरह हानिकारक हो सकता है।

गुंथे हुए आटे का स्वाद 6 से 7 घंटे बाद बदल जाता है। इसमें होने वाले रासायनिक बदलाव खाने के टेक्सचर को बदल देते हैं जिसकी वजह से यह सेहत के लिए हानिकारक हो जाता है।

आटा गूंथने के दो घंटे बाद इसमें बैक्टीरिया पनपने शुरू हो जाते हैं, इसलिए रोटियां बनाने के लिए हमेशा ताजा गुंथे आटे का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। आटा बच गया है तो इसे कांच के एयर टाइट डिब्बे में स्टोर करें।

आंत में गड़बड़ी
फ्रिज में रखे गुंथे हुए आटे की रोटियों में पोषक तत्व कम होते हैं। यह सेहत के लिए काफी नुकसानदायक होता है। 7 घंटे से ज्यादा देर तक फ्रिज में रखा आटा सख्त हो कर काला पड़ने लगता है। फ्रिज में आटा रखने से यह केमिकल रिएक्शन से खराब हो जाता है। इससे मायकोटॉक्सिन बढ़ सकते हैं। ये आंत में गड़बड़ी पैदा करते हैं और इनसे पेट की कई समस्याएं जैसे एसिडिटी, अपच और पेट दर्द होता है।

फूड प्वाइजनिंग से खराब हो सकती है तबीयत
फ्रिज में रखा आटा जब काला पड़ने लगता है तो इसका मतलब कि इसमें फंगस ग्रो हो रहे हैं। इस आटे से बनी पूरियां या पराठे खाने से पेट में इन्फेक्शन और दस्त हो सकते हैं।

न्यूट्रिशन वैल्यू कम हो जाती है
आटे में कैल्शियम, आयरन, मैग्निशियम, जिंक, विटामिन ई, बी-कॉम्प्लेक्स और 13 अमीनो एसिड होते हैं। लेकिन फ्रिज में रखे हुए आटे में पोषक तत्वों की कमी आ जाती है, ऐसे आटे की रोटी में पोषक तत्व कम हो जाते हैं।

महक आने पर न यूज करें आटा
आटे को शीशे के कंटेनर में रेफ्रिजेरेटेड में उचित तापमान पर स्टोर करें। गूंथे हुए आटे को डीप फ्रीज नहीं करना चाहिए। आटे का रंग काला हो गया है या महक रहा हो तो इसे इस्तेमाल न करें।

नीम के पानी से रोजाना धोएं चेहरा, इन समस्याओं से मिलेगा छुटकारा