स्ट्रेस और अनहेल्दी इटिंग पैटर्न सेहत पर डालते हैं असर

Underweight girl choosing between cake and salad, healthy vs high-calorie food
वर्कआउट करने में आलस करते रहे हैं? चिंता नहीं करें क्योंकि अभी भी कुछ नहीं बिगड़ा है। वेट लॉस सर्जन डॉक्टर मुफज्जल लकड़वाला की किताब द ईट राइट प्रेस्क्रिप्शन में खाना खाने की सिम्पल तकनीक बताई गईं हैं।
उन्होंने बताया है कि मैं टिपिकल ट्रेडिशनल बोहरा परिवार में जन्मा जहां मेरी मां और कुक अलादीन ये तय करते थे कि मुझे क्या खाना है। जब बात डेली मील की होती है तो कम तेल का घर पर बना भारतीय खाने से अच्छा कुछ नहीं होता है। दाल, सब्जी, रोटी से ज्यादा हेल्दी कुछ नहीं हो सकता है।

एक सर्जन के तौर पर मेरा शेड्यूल बेहद सख्त होता है। मुझे नहीं मालुम होता है कब किस वक्त कोई इमरजेंसी आ जाए और मुझे बीच रात में परिवार से दूर, सीधे ऑपरेशन थिएटर के अंदर जाना पड़ जाए। लगभग एक दशक पहले अव्यवस्थित दिनचर्या और ज्यादा चाय कॉफी पीने की वजह से मेरा करीब 15 किलो वजन बढ़ गया था। वजन घटाना और फिर उसे मेंटेन करना मेरे लिए भी उतना ही मुश्किल है जितना किसी और के लिए है।

30 की उम्र पार करते ही अपनी डाइट और फिटनेस रूटीन में करें बदलाव

जैसे ही 30 की उम्र पार करते हैं वैसे ही अपने डाइट और फिटनेस रूटीन में बदलाव करने शुरू कर देना चाहिए। ये ही बदलाव बाद में असर दिखाते हैं। जब हम जवान होते हैं तब तक हमारी बॉडी हमें माफ करती है लेकिन 30 पार करते ही बॉडी की चाल धीमी पड़ने लगती है। इसलिए वजन घटाने में भी बहुत वक्त लग जाता है। ज्यादातर लोग 30 ही अपने करियर में सेटल होना शुरू होते हैं और तब स्ट्रेस, और अनहेल्दी इटिंग पैटर्न सेहत पर असर डालते हैं। आप इस वक्त आसानी से टाइप टू डायबिटीज के शिकार भी हो सकते हैं।

रखें इन चीजों का ध्यान

क्रीम वाले दूध की जगह मलाई निकला हुआ दूध पिएं।

घर पर ही दही जमाकर खाएं। बाहर का दही अवॉयड करें।

इंडस्ट्रियली प्रोड्यूस्ड तेल की जगह सरसों और नारियल तेल जैसे ऑर्गैनिक ट्रेडिशनल तेल ही खाना बनाने के लिए इस्तेमाल करें।

सलाद भी घर का ताजा खाएं। स्टोर से मंगाई हुई ड्रेसिंग अवॉयड करें।

दिन में एक कप चाय या कॉफी ही पिएं। तीन या चार नहीं।

शुगर फ्री म्यूस्ली खाएं। सादे आते की जगह मल्टीग्रेन, ज्वार, बाजरा, रागी मिक्स करके आटा पिसवाएं।

सफेद शकर की जगह ब्राउन शुगर यूज करें।

सफेद चावल की जगह ब्राउन राइस खाएं।

डार्क चॉकलेट, गुड़, खजूर, खाने के बाद डिजर्ट की जगह लें।

सफेद नमक की जगह काला नमक खाएं।