राष्ट्रपिता की तस्वीर हटाये जाने के मामले में केजरीवाल व मान सरकार की कड़ी आलोचना

Digital background depicting innovative technologies, Internet technologies Digital News and media

उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी (उपपा) ने आम आदमी पार्टी (आप) की दिल्ली एवं पंजाब सरकारों द्वारा सरकारी कार्यालयों से राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की तस्वीरों को हटाये जाने के मामले में गहरा आक्रोश व्यक्त किया है और इसे राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का अपमान बताया है। पार्टी ने राष्ट्रपिता की तस्वीरों को पुनः स्थापित करने की मांग की है।


गुरुवार को उपपा की संपन्न बैठक में पार्टी अध्यक्ष पीसी तिवारी ने इस पर कड़ा एतराज जताते हुए कहा कि अरविंद केजरीवाल की आप पार्टी संघ व भाजपा से भी एक कदम आगे निकल गयी है और जो काम दोनों नहीं कर पाए उसे अरविन्द केजरीवाल एवं भगवंत मान की सरकार ने कर दिखाया है।


उन्होंने कहा कि पार्टी ने निर्णय लिया है कि शीघ्र ही आप के संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान को पत्र लिखकर इस पर कड़ा एतराज जताया जाएगा और निर्णय को वापस लेने की मांग की जाएगी।


यदि इस संबंध में दोनों सरकारों की ओर से सकारात्मक कदम नहीं उठाया गया तो उपपा दिल्ली एवं पंजाब सरकार के खिलाफ आंदोलन करने के लिए बाध्य होगी। बैठक में अग्निपथ योजना को वापस लेने की भी मांग की गई।