cocaine से भी ज्यादा नशीली होती है चीनी

आप प्रत्येक दिन किसी ना किसी चीज में चीनी का सेवन तो करते ही हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं आपकी डाइट में एक चम्मच चीनी हर साल एक किलो वजन बढ़ाने का कारण बन सकती है। अगर आप सीधे चीनी नहीं खाते हैं तो आप कई अन्य तरीकों से चीनी का सेवन कर लेते हैं और आपको पता भी नहीं चलता है। आप सोचते होंगे कि चीनी से सिर्फ डायबिटीज होती है, लेकिन इसके कई और भी नुकसान भी होते हैं। शरीर में शुगर की अधिक मात्रा से दिल की बीमारियां, मोटापा, इंसुलिन की कमी, मेटाबॉलिक सिंड्रोम हो सकता है और यह कैंसर होने का कारण भी बन सकती है।

चीनी के फायदे और नुकसान के बारे में तो लगातार पढ़ते रहते होंगे लेकिन चीनी एडिक्टिव भी होती है, इसका मतलब आप इसका जितना अधिक सेवन करेंगे आपको इसे और खाने की इच्छा होगी। साथ ही चीनी दिमाग के उस प्रेशर सेंटर को भी हिट करती है जो दिमाग से बाहर सिग्नल भेजती है। हाल ही में कई रिचर्स में सामने आया है कि चीनी कोकिन (नशे का सामान)से आठ गुना ज्यादा एडिक्टिव होती है। न्यूटीनिस्ट कंसलटेंट ईशी खोसला के अनुसार आपके खाने में से चीनी की मात्रा कम करना बहुत जरुरी है। हालांकि चीनी से जुड़ी सही बात ये है कि इससे एनर्जी लेवल बढ़ता है और आपकी आपकी स्किन में भी निखार आता है।

कैसे कम करें चीनी की मात्रा
– अगर बहुत अधिक मात्रा में चीनी खाते हैं तो एकदम से चीनी कम करना बहुत मुश्किल है और यह गलत साबित भी हो सकता है, इसलिए धीरे-धीरे कुछ हफ्तों में चीनी की मात्रा को कंट्रोल करें।

– कई बार आप शुगर फ्री खाने का टैग देखकर उसे खाना शुरू कर देते हैं, लेकिन शुगर फ्री खाने में फैट की मात्रा अधिक होती है, इसलिए बिना शुगर वाले खाने का चुनाव सही तरीके से करें।

– खाने के सामान में ही नहीं पीने की सामग्रियों में भी शुगर की बहुत अधिक मात्रा होती है। जैसे कि ज्यूस, वाइन, सॉफ्ट ड्रिंक,बीयर आदि भी शुगर से भरी होती है, इसलिए इन पेय पदार्थ का भी रखें ध्यान। वहीं कई शुगर फ्री आइटम में शुगर दूसरे फॉर्म में डाली जाती है जैसे, ब्राउन शुगर, शहद, माल्टोस, डेक्सट्रोस, ग्रेप शुगर आदि।

Loading...