सुप्रीम कोर्ट ने लिया संज्ञान, केंद्र को भेजा नोटिस

देशभर में बढ़ते कोरोना के मामले तथा लगातार हो रही मौतों के बीच सुप्रीम कोर्ट ने कोविड-19 की मौजूदा स्थिति पर स्वत: संज्ञान लेते हुए केंद्र सरकार को नोटिस भेजा। है।

इस मामले में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने आज सुप्रीम कोर्ट को बताया कि देश को ऑक्सीजन की सख्त जरूरत है। कोर्ट ने ऑक्सीजन की आपूर्ति और आवश्यक दवाओं के मुद्दे पर स्वत: संज्ञान लिया। सीजेआई एसए बोबडे ने कहा कि कि अदालत इस मामले की सुनवाई कल करेगी।

सीजेआई एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की तीन-न्यायाधीशों की पीठ ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता को कोविड पर एक राष्ट्रीय योजना बनाकर इसे पेश करने या सूचित करने के लिए कहा।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि कोवि़ड-19 संबंधित मुद्दों पर छह अलग-अलग हाईकोर्ट्स का सुनवाई करना किसी तरह का भ्रम पैदा कर सकता है। सुप्रीम कोर्ट ऑक्सीजन, आवश्यक दवाओं की आपूर्ति और टीकाकरण के तरीकों से जुड़े मुद्दों पर राष्ट्रीय नीति चाहता है।

डॉक्टर व कर्मियों के द्वारा घर-घर जाकर किया जा रहा है कोविड पॉजिटिव मरीजों की स्वास्थ्य की देखभाल