महागठबंधन में टिकट बँटवारे पर सुशील मोदी ने दिया ये बयान

बिहार मे अब विधानसभा चुनाव होने ही वाले है। चुनाव आयोग ने चुनाव की तिथियों की भी घोषणा कर दी है। बिहार की सियासत भी भी पूरी तरह से गर्मा गयी है। इसी बीच प्रदेश के डिप्टी सीएम सुशील मोदी का ताज़ा बयान आया है। उन्होने कहा कि महागठबंधन में सीटों के बँटवारे से साफ है कि वहां दलितों-पिछड़ों-अतिपिछड़ों के लिए कोई जगह नहीं है। राजद ने अपने जैसी भ्रष्ट और वंशवादी पार्टी कांग्रेस को सबसे बड़ा हिस्सा दिया। इन दोनों से बची सीटें उन वामदलों को जंगलराज के समर्थन की वफादारी निभाने के बदले मिलीं, जो बिहार में किसान के खेत जलाते रहे, जेएनयू में भारत तोड़ने के नारे लगाते रहे और अतिक्रमणकारी चीन को लाल सलाम भेजते रहे।

डिप्टी सीएम ने ट्वीट कर कहा है कि “कांग्रेस अब डा.राजेंद्र प्रसाद, सरदार पटेल और जगजीवन राम की पार्टी नहीं रही। वह राहुल गांधी को पीएम और तेजस्वी प्रसाद यादव को सीएम बनवाने के लिए काम करने वाली PR कंपनी बन कर रह गई है। इस पीआर कंपनी का खर्चा, चीनी चंदे और मनी लौंड्रिंग से लेकर टिकट बेचने तक के कामों से चलता है”। उन्होंने कहा कि पटना में 74 लाख रुपये के साथ राजद नेता की गाड़ी पकड़ी गयी। पूर्णिया में विधानसभा चुनाव का टिकट पाने के लिए पैसे देने के बावजूद एक राजद कार्यकर्ता की हत्या हो गई। लालू प्रसाद ने पार्टी को जो संस्कार दिये हैं, वही साफ दिख रहा है। मुकेश सहनी को देर से पता चला कि राजद टिकट बेचने की दुकान है।