रोजाना खाली पेट निगल लें दो लहसुन की कलियां, बीमारियां आसपास भी नहीं भटकेंगी

लहसुन को सेहत के लिए काफी अच्छा माना जाता है. लहसुन में ऐसे तमाम पोषक तत्व होते हैं, जो शरीर को तमाम बीमारियों से बचाने में मददगार हैं. यहां जानिए खाली पेट लहसुन खाने के फायदे.

लहसुन को आयुर्वेद में औषधि माना गया है. लहसुन में विटामिन बी1, बी6 और सी के अलावा मैगनीज, कैल्शियम, कॉपर, सेलेनियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं. साथ ही इसमें एलिकिन नामक विशेष औषधीय तत्व होता है, जो जीवाणुरोधी, एंटीवायरल, एंटीफंगल और एंटीऑक्सिडेंट गुणों से भरपूर होता है. इस लिहाज से लहसुन सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद होता है. कहा जाता है कि अगर रोजाना खाली पेट दो लहसुन की कलियां निगल लीं जाएं तो आपकी सेहत को चमत्कारी लाभ मिलते हैं और शरीर तमाम बीमारियों से बचा रहता है. आइए जानते हैं लहसुन से मिलने वाले तमाम फायदों के बारे में.

पेट की समस्याएं दूर करता

आयुर्वेद में पेट को आधी से ज्यादा बीमारियों की जड़ माना गया है. माना जाता है कि अगर दो लहसुन की कलियां पानी के साथ सुबह खाली पेट निगल ली जाएं तो गैस, एसिडिटी, अपच, कब्ज आदि पाचन से जुड़ी तमाम समस्याएं दूर हो जाती हैं.
इम्यून सिस्टम मजबूत करता

लहसुन शरीर को डिटॉक्सीफाई करने का काम करता है. नियमित रूप से इसे खाने से शरीर के विषाक्त पदार्थ बाहर निकलते हैं. इससे आपका इम्यून सिस्टम मजबूत होता है और आपका शरीर तमाम बीमारियों से लड़ने में सक्षम होता है. शरीर के डिटॉक्सीफाई होने से आपके शरीर और आपकी स्किन दोनों को कई तरह के फायदे मिलते हैं.

वजन घटाने में उपयोगी

वजन घटाने के लिहाज से भी लहसुन को काफी फायदेमंद माना जाता है. लहसुन में ऐसे तमाम तत्व पाए जाते हैं, जो मेटाबॉलिज्म बूस्ट करते हैं और शरीर के फैट को तेजी से बर्न करते हैं. वजन कम करने वालों के लिए ये काफी लाभकारी है.

ब्लड शुगर कंट्रोल करे

डायबिटीज के मरीजों के लिए भी लहसुन काफी अच्छा माना जाता है. इसमें पाया जाने वाला एलिसिन नामक तत्व ब्लड में शुगर के लेवल को नियंत्रित रखता है. जिनको डायबिटीज की बीमारी नहीं है, वे अगर रोजाना सुबह लहसुन लें, तो डायबिटीज का रिस्क कम होता है.

मौसमी बीमारियों से राहत

नियमित रूप से लहसुन की दो कलियां पानी के साथ निगलने से मौसमी बीमारियों से भी राहत मिलती है. रोजाना लहसुन लेने से सर्दी, जुकाम और खांसी जैसी परेशानियां जल्दी जल्दी नहीं सतातीं. साथ ही टीबी और अस्थमा जैसे मरीजों के लिए ये काफी लाभकारी माना जाता है.
कैंसर का रिस्क घटाता

एंटी इंफ्लेमेटरी, एंटीबायोटिक और एंटीकार्सिनोजेनिक गुणों से भरपूर होने के कारण लहसुन कैंसर जैसी घातक बीमारी का रिस्क भी कम करता है. साथ ही जिन लोगों को हाई बीपी की समस्या होती है, उनके लिए भी ये काफी लाभकारी है.

जब किसी करीबी को अचानक आ जाए हार्ट अटैक तो कैसे बचाएं मरीज की जान जानिए