राई का सेवन करने से सूजन की समस्या होती है दूर !

भारतीय किचन में सिर्फ भोजन ही नहीं पकता। बल्कि यहां पर ऐसे कई मसाले पाए जाते हैं, जिनकी मदद से बहुत सी छोटी-बड़ी बीमारियों का सफाया बेहद आसानी से व प्राकृतिक रूप से किया जा सकता है। ऐसी ही एक चीज है राई। यूं तो आपने इसका प्रयोग भोजन में तड़के के रूप में किया होगा लेकिन यह आपको कई बीमारियों से राहत भी दिलाते हैं। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

राई को दानों में एक एंटी.इंफ्लेमेट्री गुणों वाला तत्व सेलेनियम पाया जाता है। इसकी खासियत यह है कि इससे सूजन की समस्या दूर होती है। ऐसे में अगर आपके शरीर के किसी हिस्से में दर्द व सूजन है, तो आप राई के तेल से प्रभावित स्थान पर मालिश करें।

वहीं जिन लोगों को अस्थमा, अर्थराइट्सि और निम्न रक्तचाप की समस्या है, उन्हें राई के दानों को किसी न किसी रूप में अवश्य शामिल करना चाहिए। दरअसल, इसमें पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है, जो इन सभी समस्याओं को दूर करता है। खासतौर से, अगर राई के दानों काे भिगोकर सेवन किया जाए तो इससे विशेष लाभ होगा।

जिन लोगों के कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ जाता है, उसे कम करने के लिए राई का सेवन लाभकारी किया जाना चाहिए। राई में मौजूद नियासिन यानि विटामिन बी-3 कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने के लिए लाभकारी होती है। रात को पानी में राई भिगोकर खाने से हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या कम होती है।

 

यह भी पढ़ें-

आप पा सकते हैं कोमल होंठ, अपनाये ये घरेलू उपाय !