30 की उम्र में कहा क्रिकेट को अलविदा, कभी भारत को बनाया था विश्व चैंपियन

2008 की अंडर-19 विश्व कप विजेता भारतीय टीम के सदस्य रहे तन्मय श्रीवास्तव ने शनिवार को क्रिकेट को अलविदा कह दिया। 30 वर्षीय तन्मय ने सभी तरह के क्रिकेट प्रारूपों से संन्यास का एलान करते हुए कहा कि उन्होंने कुछ नए सपने देखे है और वह उन पर काम करने की बड़ी महत्वकांक्षा रखते हैं।

बाएं हाथ के बल्लेबाज ने सोशल मीडिया पर संन्यास का एलान किया हैं। उन्होंने ट्वीट में लिखा ‘यह मेरे क्रिकेट करियर को अलविदा कहने का समय है। मैंने यादें और दोस्त बनाने के साथ जूनियर क्रिकेट, रणजी ट्रॉफी और अंडर -19 विश्व कप में अच्छा प्रदर्शन किया जिससे टीम के साथ कप लेकर घर लौटा।’

तन्मय ने अपने कोचों, उत्तर प्रदेश क्रिकेट प्रशासकों, माता-पिता और पत्नी का धन्यवाद किया। साथ ही कहा कि उन्हें लगता है कि उन्होंने मैदान के अंदर और बाहर क्रिकेट से जुड़ी कई यादें बनाई हैं जो जीवन भर उनके साथ जुडी रहेंगी। कुछ नए सपने उन्होंने देखे हैं और उन्हें पूरा करने की महत्वकांक्षा है।

बता दे तन्मय मलयेशिया में 2008 में खेले गए अंडर-19 विश्व कप में 262 रन के साथ टूर्नामेंट के शीर्ष स्कोरर थे। उन्होंने फाइनल में 43 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली थी। इस टीम के कप्तान विराट कोहली थे। तन्मय ने प्रथम श्रेणी के 90 मैचों में 10 शतकों और 27 अर्धशतकों की मदद से 4,918 रन बनाये है।

सीनियर भारतीय टीम में जगह बना पाने में नाकाम रहे तन्मय ने घरेलू क्रिकेट में उत्तर प्रदेश के प्रतिनिधित्व के बाद उत्तराखंड का नेतृत्व किया। आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) में उन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब और पूर्व टीम कोच्चि टस्कर्स का प्रतिनिधित्व किया था।

यह भी पढ़े: KKR vs DC: पचासा लगाकर नीतीश राणा ने दिखाई दिवंगत ‘ससुर’ के नाम लिखी जर्सी
यह भी पढ़े: पंजाब और राजस्थान की सरकार बलात्कार के मामलों में न्याय का रास्ता नहीं रोका: राहुल गाँधी