एक साथ 25 जिलों में फर्जी कागजों के आधार पर नौकरी करने वाली शिक्षिका गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश में एक साथ 25 जिलों में फर्जी दस्तावेजों के आधार पर शिक्षिका की नौकरी करने वाली अनामिका शुक्ला को शनिवार को कासगंज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी शिक्षिका को बीएसए ऑफिस से गिरफ्तार किया गया। वह फरीदपुर स्थित कस्तूरबा आवासीय विद्यालय में शिक्षिका के पद पर तैनात है। पुलिस जांच-पूछताछ में अनामिका शुक्ला ने खुद को कायमगंज, फर्रुखाबाद की निवासी बताया। अभी भी आरोपी से पुलिस पूछताछ जारी है।

पूरे मामले में बीएसए ने सोरों कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है और डीएम ने इस संबंध में एक रिपोर्ट शासन को भी भेजी है। बीएसए ने अनामिका शुक्ला नाम की शिक्षिका के बारे में जांच में पाया कि वह फरीदपुर कस्तूरबा गांधी आवासी विद्यालय में विज्ञान की शिक्षिका के पद पर कार्यरत है। जिसके बाद उसे नोटिस देकर नियुक्ति संबंधी स्पष्टीकरण मांगा गया। शनिवार को नोटिस देखकर शिक्षिका इस्तीफा दाखिल करने दोपहर बाद बीएसए ऑफिस पहुंच गई।

बीएसए ने डीएम और एसपी को इन्फॉर्म किया। फिर सीओ सिटी आरके सिंह एवं सोरों कोतवाली पुलिस ने बीएसए ऑफिस पहुंचकर आरोपी शिक्षिका को हिरासत में ले लिया और कोतवाली ले गई। पूछताछ में शिक्षिका ने अपना नाम अनामिका शुक्ला निवासी नई बस्ती कायमगंज फर्रुखाबाद बताया।

यह भी पढ़े: यदि भारत और चीन कोरोना की ज्यादा जांच करेंगे तो वहां अमेरिका से ज्यादा मामले होंगे- डोनाल्ड ट्रंप
यह भी पढ़े: अचानक से चर्चा में आ गए बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया, फिर ट्वीट कर ऐसे किया मामला शांत