अनेको बीमारियों से छुटकारा दिलाता है तेजपत्ता, जानें कैसे

तेजपत्ते एक तरह का मसाला होता है जिससे भारतीय किचन में उपयोग में लिया जाता है। इसे आयुर्वेद में जड़ी बूटी के रूप में किया जाता है। व्यंजन को खुशबू देने के लिए तेजपत्ते का इस्तेमाल किया जाता है। इसका यूज़ करने से खाना टेस्टी हो जाता है। यह पौष्टिक तत्वों से भरपूर होता हैं। तेजपत्ता के इस्तेमाल से डाइबिटीज़, अल्जाइमर, खांसी, जुकाम, जॉइंट पेन आदि समस्याओं से निजात पाया जा सकता है। ये एंटी ऑक्सीडेंट तत्वों से अधिक होता हैं। इसमें कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फैट, कोलेस्ट्रोल फोलेट, नियासिन, विटामिन ए, सी, सोडियम, पोटेशियम, कैल्शियम, आयरन, मैगनीज, फास्फोरस, जिंक मौजूद होते हैं। आइए जानें इसके फायदे –

ठंड से बचाए-

तेजपत्ता ठंड से बचाव करने में बहुत असरदार होता है। इसका सेवन करने के लिए आप 10 ग्राम तेजपत्ते के टुकड़ो को तवे पर फ्राई कर लें। फिर एक भगोने में दूध, चीनी, तेजपत्ते के टुकड़े व पानी का मिक्सचर उबाल लें। अच्छे से उबल जाने पर इसका सेवन करें।  ये आपको ठंड से बचाने में मदद करेगा।

डाइबिटीज़ में फायदेमंद-

तेजपत्ता मधुमेह के रोगियों के लिए बहुत असरदार होता है।  इसके सेवन से बॉडी में शुगर कंट्रोल रहती है। तेजपत्ते को कूट लें और फिर इसके चूरे को पानी के साथ दिन में तीन बार लें।  बहुत फायदा मिलेगा।

निद्रा दूर करे-

तेजपत्ते के इस्तेमाल से नींद अधिक आने की समस्या को दूर किया जा सकता है।  इसके लिए आपको तेजपत्ते को 6 घंटे तक पानी में डालकर रखना है। फिर प्रातः उठकर उस पानी को पीएं। ऐसा करने से आपको अधिक नींद नहीं आएगी और आप फ्रेश महसूस करेंगे।

चेहरे के लिए फायदेमंद-

चेहरे के दाग धब्बो से निजात पाने में तेज़पत्ता बहुत अहम रोल निभाता है। इसके इस्तेमाल से मुंहासे, धब्बे दूर किए जा सकते है। इसका इस्तेमाल करने के लिए तेजपत्ते को पानी में उबाल लें।  फिर उस पानी से अपना फेस वॉश करें।  इसके अलावा आप तेजपत्ते का लेप भी फेस पर अप्लाई कर सकती है। फायदा मिलेगा।

यह भी पढ़ें:

इस मानसून में जरूर खाएं इम्यूनिटी बढ़ाने वाली ये 3 चीजें

वायरल फीवर को कुछ ही समय में कीजिए छूमंतर, जानिए कैसे?