फंगल इन्फेक्शन से निजात दिलाने का काम करता है तेज पत्ता, जानें इसके फायदे

हर भारतीय रसोई में तेज पत्ते का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। यह ऐसा मसाला होता है जो अक्सर व्यंजनों में खुशबू बढ़ाने का काम करता है। तेज़ पत्ते की पत्तियां कई बीमारियों से निजात दिलाने में मददगार साबित होती है। इस औषधीय पत्ते में टैनिन, फ्लेवोन, फ्लेवोनोइड्स, एल्कलॉइड्स, यूजेनॉल, लिनालूल और एंथोसायनिन पाया जाता है। यह पाचन से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा दिलाता है। इसका सेवन करने से टाइप 2 डायबिटीज को कंट्रोल में रखा जा सकता है। आइये जानें इसे खाने के फायदों के बारे में –

मधुमेय कंट्रोल में रखे

तेज पत्ते का सेवन करने से डायबिटिक रोगियों को काफी फ़ायदा मिलता है। यह इंसुलिन के लेवल में सुधार लाता है। तेज पत्ते खाने से कुल कोलेस्ट्रॉल में 20 से 24% तक की कमी आती है।

फंगल इन्फेक्शन से छुटकारा

तेज पत्ते में एंटीफंगल तत्व मौजूद होते हैं। यह यीस्ट इन्फेक्शन के विरुद्ध कारगर साबित होता है। ऐसे में स्किन से संबंधित फंगल इन्फेक्शन से छुटकारा पाने के लिए तेज पत्ते का ऑयल लगाया जा सकता है।

श्वास तंत्र के लिए फ़ायदेमंद

तेज पत्ता खाने से खांसी, फ्लू, ब्रोंकाइटिस, अस्थमा जैसे रोग से छुटकारा मिलता है। इसमें कई एंटीइंफ्लेमेटरी तत्व मौजूद होते हैं। तेज पत्ता रेस्पिरेटरी सिस्टम की सूजन से भी निजात दिलाता है।

दांतों के लिए लाभदायक

अगर आप भी दांतों की समस्या से पीड़ित हैं तो आज से ही तेज़ पत्ते का सेवन करना शुरू कर दें। इसमें विटामिन-सी मौजूद होता है जो मसूड़ों के टिश्यू में कसाव लाने का काम करता है। इसका सेवन करने से मुंह में बैक्टीरिया भी नहीं पनपते हैं।

यह भी पढ़ें : गर्मियों में मुंहांसो से छुटकारा दिलाता है पुदीने का पानी, अवश्य करें इसका सेवन