बेरोजगारी के मुद्दे पर तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश सरकार पर बोला हमला

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद नेता तेजस्वी यादव ने बेरोजगारी के मुद्दे पर फिर बिहार के बेरोजगारी को लेकर सीएम नीतीश सरकार पर हमला बोला है। तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया कि “बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बेरोज़गारी पर बात करने से डरते क्यों है? क्या बिहार को बेरोज़गारी का मुख्य केंद्र बनाने के बाद उन्हें शर्म आती है? क्या नौकरियों में धांधली और बिहार के उद्योग-धंधे बंद करवाने के बाद भी वह युवाओं को भ्रमित कर और अधिक ठगना चाहते है?”

गौरतलब हो कि पहली बार देश में लगे लॉकडाउन के दौरान से ही तेजस्वी यादव बिहार के बेरोजगारों को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर लगातार निशाना साध रहे हैं। उनका कहना है कि अगर प्रदेश सरकार यही पर  काम देती तो लाखों बिहारियों को बाहर रोजगार के लिए अपना घर नहीं छोड़ कर जाना पड़ता। यहाँ काम की भारी कमी है। लोगो को रोजगार मिलने मे परेशानी हो रही है।

तेजस्वी यादव इसके पहले भी कई दफ़ा रोजगार को लेकर सीएम पर जुबानी हमला बोल चुके है। तेजस्वी ने कहा था कि, “बेरोजगारी इस देश का सबसे ज्वलंत मुद्दा है, लेकिन यह सरकार की प्राथमिकता में नहीं है। करोड़ों युवाओं को नौकरी देने का वादा किया था यहां तो पहले से भी मिली नौकरियाँ छिनी जा रही है। बिहार में बहुत अधिक बेरोज़गारी है। बिहार मे डबल इंजन की  सरकार होते हुए भी प्रदेश बेरोज़गारी का केंद्र गया है।” तेजस्वी ने पूछा है कि आखिर बिहार के सीएम नीतीश कुमार बेरोजगारी पर क्यों नहीं बात करते हैं। आखिर बेरोजगारी पर बात करने में उन्हें शर्म क्यों आती है। बिहार मे विधानसभा चुनाव को लेकर एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो चुका है। विपक्षी पार्टियाँ वर्तमान सरकार पर बेरोजगारी के मुद्दे पर आरोप लगा रही है और सरकार को घेरने की तैयारी मे लगी हुई है।