बच्चों को सोते वक्त कहानियां सुनाने से होती है उनकी मेमोरी बूस्ट

वर्तमान समय में जीवन जीने का तरीका काफी हद तक बढ़ गया है। कुछ समय पहले तक छोटे बच्चे रात में अपनी दादी-नानी से परियों की कहानियां सुनकर ही सोने जाते थे, लेकिन अब एकल परिवारों का चलन बढ़ गया है और माता-पिता के पास इतना समय नहीं होता कि वे अपने बच्चे को रात में कहानी सुनाए। लेकिन हम आपको बता दें कि बच्चे को रात में सोते समय कहानी सुनाने के बहुत ही लाभ होते हैं। तो चलिए जानते हैं इन लाभों के बारे में-

जब आप अपने बच्चे को कहानी सुनाते हैं तो वो सोशल और इमोशनल रूप से दूसरों से आसानी से जुड़ जाते हैं क्योंकि उन्हें चीजों की जानकारी होने लगती है और साथ ही वो अपनी भावनाओं को भी आसानी से व्यक्त कर पाते हैं।

अगर आप अपने बच्चे को सोते वक्त कहानियां सुनाते हैं तो उनकी मेमोरी बूस्ट होती है।

सोते वक्त बच्चे को कहानी सुनाना उनके मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी हो सकता है। इसके अलावा ऐसा करने से उन्हें अच्छी नींद आती है और उनका स्वास्थ्य बेहतर रहता है।

जब आप अपने बच्चे को कहानी सुनाते हैं तो वो आपकी बातों को ध्यानपूर्वक सुनते हैं और समझते भी हैं। इस वजह से वो अन्य बातों को भी ध्यान से सुनते हैं और इस वजह से उनका अटेंशन बढ़ता है।