24 अगस्त को सभी जिलों के डीएम के साथ निर्वाचन आयोग करेगा वर्चुअल मीटिंग

चुनाव आयोग ने बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर चुनाव आयोग ने 24 अगस्त को बिहार के सभी जिलों के जिलाधिकारियों के साथ रेस वर्चुवल मीटिंग बुलाया है। इस वर्चुअल बैठक मे वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की जायेगी। चुनाव का गाईडलाइन जारी करने के बाद अब बिहार के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एचआर श्रीनिवास चुनाव की तैयारियों मे पूरी तरह से जुट गए है। इस बैठक में बूथ लेवल तैयारी से लेकर कोरोना सहित जिले के आपराधिक स्थिति पर बिंदुवार चर्चा की जाएगी।

विधानसभा की चुनावी समीक्षा के लिए जिलाधिकारियों को पूर्व से ही 25 बिन्दुओं की सूची भेज दिया गया है। एक-एक बिंदुओं पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा जिलों से रिपोर्ट ली जायेगी। इस बैठक में स्ट्रांग रूम और मतगणना सेंटर के भवन को चिन्हित किये जाने की जानकारी लेने से लेकर प्रत्येक बूथ जहां पर वोटरों की संख्या 500 या उससे कम है वहां पर मतदान कर्मियों की संख्या घटाये जाने के संबंध में भी जरूरी फैसला लिया जाएगा। बिहार के बाहर से राज्य में आये हुए श्रमिकों का निर्धारित मानक के अनुसार वोटरलिस्ट में नाम शामिल करने को लेकर की गयी कार्रवाई, भारत निर्वाचन आयोग द्वारा संविदा आधारित व तदर्थ कर्मियों की स्टैटिक भेजने की तैयारी, सार्वजनिक स्थलों की क्षमता की स्थिति, खराब इवीएम और वीवीपैट के निर्माण करनेवाली कंपनी को उसकी मरम्मत के लिए भेजे जाने, मतदाता सूची के सतत अद्यतीकरण में प्राप्त लंबित प्रपत्रों के निष्पादन और ऑफलाइन प्राप्त आवेदन पत्रों के डिजिटलाइजेशन की स्थिति जैसे बिंदुओं पर इस बैठक में समीक्षा की जायेगी।

कोरोना के प्रकोप के बीच पटना स्थित राज्य चुनाव आयोग के दफ़्तर में कई चरणों में पदाधिकारियों की ट्रेनिंग कराई जा चुकी है। सभी जिलों को ईवीएम मशीनें भी भेजी जा चुकी हैं जिसका ट्रायल भी जारी है, राज्य चुनाव आयोग बिहार चुनाव की तैयारी में काफी दिनों से जुटी हुई है लेकिन गाइडलाईन जारी होने के बाद अब इसकी रफ्तार और तेज़ हो गई है। हर जिले के डीएम एसपी चुनाव की तैयारी में जुटे हैं। बिहार विधानसभा चुनाव निष्पक्ष हो इसके लिए भी चुनाव आयोग खासे ध्यान रख रहा है।