मौसम संतरे का है, लेकिन इन लोगों के लिए खाना हो सकता है खतरनाक

बदलते मौसम के कारण हर कोई परेशान रहता है। सर्दी-जुकाम, बुखार जैसी बीमारियां बेहद आम हो जाती है। ऐसे में सबसे अधिक अपने खान-पान का ध्यान रखना पड़ता है। सर्दियों में बहुत से ऐसे फल और सब्जियां मिलते हैं जो स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन कई ऐसे भी फल होते हैं जिसका स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। संतरा उनमें से एक हैं। वैसे सर्दी में संतरा अधिक मात्रा में मिलता है, लेकिन डायबिटीज के मरीजों के लिए यह घातक साबित हो सकता है। इसके अलावा और भी कई बीमारियों में इसे खाना शरीर पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। आइए जानते हैं उन बीमारियों के बारे में-

डायबिटीज: संतरा में आर्टिफिशियल स्वीटनर नहीं होता है, लेकिन इसके बावजूद इसमें चीनी अधिक मात्रा में होता है। शुगर में ग्लाइसेमिक इंडेक्स अधिक होता है, जिस वजह से यह ब्लड शुगर के लेवल को प्रभावित कर सकता है। इसलिए डायबिटीज के मरीजों के लिए संतरा हानिकारक साबित हो सकता है।

फाइबर कम होता है: यदि आप वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं तो फाइबर खाना जरूरी होता है, क्योंकि यह पेट को लंबे समय तक भरा रखता है। संतरा में फाइबर कम होता है। आपके पेट को भरा रखने के अलावा, फाइबर आपके कोलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर के स्तर को प्रबंधित करने में मदद करता है, और नियमित रूप से बॉवेल मूवमेंट को बढ़ावा देने में मदद करता है। इसलिए संतरा खाना आपके लिए हानिकारक हो सकता है।

प्रोटीन कम होता है: संतरे का सेवन हानिकारक हो सकता है क्योंकि वे प्रोटीन में कम होता है। एक 100 ग्राम संतरे में सिर्फ 1 ग्राम प्रोटीन होता है। मांसपेशियों, त्वचा और अन्य शारीरिक ऊतकों के निर्माण और रखरखाव के लिए प्रोटीन की आवश्यकता होती है। ऐसे में आप अपनी डाइट में संतरा ना शामिल करें।

मिनरल्स कम होता है: वैसे तो संतरे में बहुत सारा विटामिन्स होता है, लेकिन मिनरल्स कम होता है। संतरा में आयरन, जीन्क. कॉपर, सेलेनियम और फॉस्फोरस नहीं होता है।

लेकिन संतरे का खाना जितना आपके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक होता है, उतना ही फायदेमंद भी होता है-

हृदय स्वास्थ्य बेहतर रखता है
ब्लड प्रेशर को रेगुलेट करता है
किडनी के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है
कैंसर के मरीजों के लिए अच्छा होता है
प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए फायदेमंद होता है
शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर करता है
अर्थराइटिस के मरीजों के लिए अच्छा होता है

यह भी पढे –

ज्यादा सोयाबीन चंक्स खाने से भी बढ़ सकता है यूरिक एसिड, इन परेशानियों को भी देता है बुलावा