सबसे बुरा प्रभाव बच्चों के इम्यून सिस्टम पर पड़ता है , जानिये कैसे !

वर्तमान समय में लोग प्रदूषित हवा में सांस लेते हैं, जिसका बुरा असर उनके स्वास्थ्य पर पडता है। यह तो हम सभी जानते हैं कि बच्चों का इम्युन सिस्टम बडों की अपेक्षा कमजोर होता है। जिसके कारण वे बहुत जल्द बीमार पड जाते हैं। अब इस प्रदूषित वायु का विपरीत असर भी उनके स्वास्थ्य पर पडने लगा है। तो चलिए जानते हैं प्रदूषित वायु से बच्चों को होने वाले प्रभावों के बारे में-

जहरीली हवा का सबसे बुरा प्रभाव बच्चों के इम्युन सिस्टम पर पडता है। जब बच्चे प्रदूषित वायु में सांस लेते हैं तो वह हवा उनके फेफडों में जाकर उनके प्रतिरक्षा तंत्र को कमजोर करती है।

प्रूदषण के कण इतने छोटे और बारीक होते हैं कि वे हवा के जरिए बच्चों के शरीर के अंदर पहुंचते हैं और फिर खून से होते हुए ब्रेन तक पहुंच जाते हैं और ब्लड ब्रेन बैरियर को नुकसान पहुंचाते हैं जिससे न्यूरो.इन्फ्लेमेशन की समस्या हो सकती है।

इतना ही नहीं, प्रदूषित वायु के कण मस्तिष्क के उन हिस्सों को नुकसान पहुंचा सकते हैं जो न्यूरॉन्स को कम्यूनिकेट करने में मदद करता है। साथ ही यह मस्तिष्क के उस हिस्से को भी प्रभावित करता है जिसके जरिए बच्चा सीखता है और विकसित होता है।

यह तो हम सभी जानते हैं जहरीली हवा मनुष्य के शरीर पर बुरा प्रभाव डालती हैं लेकिन बच्चे इससे ज्यादा प्रभावित होते हैं। क्योंकि बड़ो की तुलना में बच्चों के दिमाग को जहरीले केमिकल्स का छोटा सा हिस्सा भी नुकसान पहुंचा सकता है। साथ ही बच्चे बड़ों की तुलना में ज्यादा तेजी से सांस लेते हैं इसलिए भी ज्यादा प्रदूषित हवा को शरीर के अंदर ले लेते हैं।

यह भी पढ़ें-

नींबू के रस का करें सेवन, मिलेंगे ये फायदे