मजेदार जोक्स:ख़ुशी का ठिकाना ना रहा

टीचर – “ख़ुशी का ठिकाना ना रहा”,
इस मुहावरे का क्या मतलब है ?
पप्पू – ख़ुशी घर वालों से छिपकर,
रोजाना अपने बॉयफ्रेंड से मिलने जाती थी,
एक दिन उसके पापा ने बॉयफ्रेंड के साथ देख लिया,
और ख़ुशी को घर से निकाल दिया !!
अब बेचारी “ख़ुशी का ठिकाना ना रहा”!!!
टीचर बेहोश ….😂

 

*****************************************************************

जो कोई भी सज्जन अपनी पत्नी को..
दीपावली की गिफ्ट दे रहा है या..
पकवान बनाने में मदद कर रहा हो,
अथवा गृह सफाई/सज्जा में सहयोग कर रहा है।
.
.
उनसे निवेदन है कि उसकी Photo,
FB या Whatsapp पर डाल के
दूसरों के जीवन में जहर ना घोले।
धन्यवाद!😂

मजेदार जोक्स:मेरे पापा ने मुझे नया मोबाइल