इन तरीको से बच्चे के शरीर में नहीं होगी पानी की कमी

गर्मी का मौसम आते ही डिहाइड्रेशन की समस्या काफी बढ़ जाती है बड़े व्यक्ति ही नहीं होते बल्कि छोटे बच्चों यहां तक की नवजात शिशुओं को भी इसका सामना करना पड़ता है इसलिए यह बेहद आवश्यक है कि आप मौसम बदलने के साथ-साथ बच्चों के खानपान पर विशेष नजर रखें अगर आप इसमें थोड़ी सी भी लापरवाही बरतते हैं तो बच्चे के शरीर में पानी की कमी होने की पूरी संभावना रहती है तो चलिए आते हैं कुछ ऐसे तरीके जिन्हें अपनाकर आप बच्चे को गर्मी के मौसम में पूरी तरह स्वस्थ रख सकती है-

यदि आपका बच्चा सिर्फ आपके दूध पर निर्भर करता है तो उसको थोड़़- थोड़े समय के बाद स्तनपान जरूर करवाएं। अगर बच्चा 6 महीने से बड़ा है तो उसे बाहर का फार्मूला दूध या पानी पीलाते रहें। अगर शिशु इस उम्र से छोटा है तो उसे दूख पीलाते रहें।

अगर आपके बच्चे ने ठोस तरल पदार्थ लेना शरू कर दिया है तो उसको ताजे फलों का रस जैसे संतरा और मौसम्मी पीने को दें सकती हैं। इसके अलावा, आप शिशु को दाल का पानी या फिर सूप भी दे सकती हैं। इससे शिशु का शरीर न केवल हाइड्रेटेड रहेगा बल्कि इससे एनर्जी भी मिलेगी।

शरीर को ठंडा रखने के लिए उसे ग्राइप वाटर भी दें। इसके अलावा शिशु को पानी उबाल कर उसे ठंडा कर के समय-समय पर 2-2 चम्मच देते रहें।